कोरोना से बचने के लिए किया हवन यज्ञ

खोदावंदपुर/बेगूसराय. प्रतिमा विसर्जन के साथ ही तीन दिवसीय श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पूजा शुक्रवार को संपन्न हो गया. बताते चले कि प्रखंड क्षेत्र के तारा बरियारपुर, बिदुलिया, चलकी, नुरूल्लाहपुर, फफौत, बाड़ा, बरियारपुर पूर्वी, मालपुर, चकवा, खोदावंंदपुर आदि गांवों के ठाकुरबाड़ियों पर भी जन्माष्टमी बड़ी धुमधाम से मनाया जाता था. लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के कारण श्रीकृष्ण जन्माष्टमी बाल पूजा समिति तारा बरियारपुर द्वारा आयोजित होने वाला मेला इस वर्ष फीका पड़ गया.

पूजास्थल पर पंडाल को आकर्षक ढंग से सजाया तो गया परंतु लॉकडाउन के कारण इस बार तीन दिवसीय मेला स्थगित रहा.पूजास्थल के आस-पास रंग बिरंगे दुकानें भी नहीं सजी. पूजा स्थल पर श्रद्धालु मास्क लगाकर पूजा करते दिखें.तथा प्रशासन श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पूजा की लगातार निगरानी करते रहें.प्रतिमा विसर्जन बरियारपुर पश्चिमी गांव का भ्रमण करते हुए बुढ़ी गंडक नदी के रामघाट पर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विसर्जन किया गया. विसर्जन में समिति के सदस्यों के अलावे अन्य श्रद्धालुओं ने भाग लिया.

वहीं कृष्ण जन्माष्टमी बाल पूजा समिति तारा बरियारपुर के अध्यक्ष अविनाश कुमार शर्मा, सचिव राजेश कुमार, कोषाध्यक्ष राजीव कुमार, सहयोगी सिकंदर कुमार, सुमंत कुमार, गुलाम कुमार, दिलीप पंडित, श्याम कुमार श्याम, अशोक महतो उर्फ जयकुमार, गोपालजी लाल, शंभू पंडित, रामचरित्र महतो, शिवम कुमार सहित अनेक सदस्यों ने बताया कि पूजा स्थल पर कोरोना वायरस से बचने के लिये हवन यज्ञ का आयोजन किया गया.ताकि लोग कोरोना से बच सकें.