बिजली विभाग की लापरवाही : खेत में टूटकर गिरी थी बिजली की तार, शौच के लिए गए युवक की करेंट लगने से गयी जान

Bijli

न्यूज डेस्क : बेगूसराय में बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बता दें कि बिजली विभाग के गैरजिम्मेदाराना रवैये का खामियाजा युवक को जान देकर चुकाना परा । मंझौल ओपी क्षेत्र के पबरा गांव में गुरुवार की अलसुबह शौच के लिए खेत में गए युवक की बिजली की टूटी तार के संपर्क में आने से करंट लगने से मौत हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक वार्ड नंबर 1 के निवासी स्वर्गीय नागेश्वर साह के पुत्र चंदन कुमार वार्ड नंबर 1 में ही किराना दुकान चलाता था।

वह दुकान पर ही रात को सोता था । रोज की तरह वह गुरुवार की अल सुबह शौच के लिए अपने दुकान से उठकर खेत की ओर गया परंतु खेत में गिरे बिजली की तार को ना देखने के कारण उनके संपर्क में आ गए । और खेत में ही वह अचेत होकर गिर पड़ा । कुछ देर के बाद अन्य कामों से खेत की ओर गए किसानों की नजर उस पर पड़ी । तब लोग को यह बात पता चली की युवक की मौत हुई है। देखते ही देखते सैकड़ों लोगों की भारी भीड़ घटनास्थल पर जमा हो गई । इसकी सूचना ग्रामीणों ने मंझौल पुलिस को दी। उसके के बाद ओपी अध्यक्ष अजीत कुमार एसआई विश्वनाथ शर्मा पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर जाकर मामले की तफ्तीश में जुट गए।

ग्रामीणों से मिली जानकारी के मुताबिक बिजली विभाग की लापरवाही के कारण इस हादसे होना है। मृतक युवक के पिता की मौत कुछ साल पहले हो गई थी । घर में दो भाई और मां रहते थे युवक अपने घर का छोटा भाई है। इस घटना के बाद से उसकी मां बड़े भाई और स्वजनों का चित्कार मार-मार कर बुरा हाल था। ग्रामीणों ने बिजली विभाग के सम्बन्धित लोगों के ऊपर कारवाई की जाने की मांग की है।

ग्रामीणों ने बिजली विभाग के ऊपर घोर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। बताया कि बिजली विभाग को बार-बार इस चीज की सूचना दी गई थी परंतु इसका कोई ठोस पहल नहीं किया गया था। मिस्त्री आया और यह कहकर चला गया था। कि इस तार में करंट नहीं आएगा। इसको काट दिया गया है। परंतु आज इस घटना के बाद बिजली विभाग बिजली विभाग की संवेदनहीनता का खामियाजा एक व्यक्ति की जान देकर भुगतना पड़ा। काफी मशक्कत के बाद लोगों ने मुआवजे के आश्वासन पर शव को पोस्टमार्टम के लिए पुलिस को ले जाने दिया।

You cannot copy content of this page