बेगूसराय में कोराना जांच की अजब-गजब लीला, बिना जांच करवाये ही रिपोर्ट आ जाता है पॉजिटिव

Corona Update

न्यूज डेस्क : ना हमारे लिए लिखते, ना आपके लिए लिखते अगर गालिब जिंदा होते तो सिर्फ इनके लिए लिखते। बेगूसराय जिले के छौड़ाही प्रखंड क्षेत्र में कोरोना जांच में कलाबाजी कर फर्जी आंकड़े प्रस्तुत करने वाले जिम्मेदार स्वास्थ्य एवं प्रशासनिक विभाग के अधिकारी पर उक्त पंक्तियां बिल्कुल सटीक बैठ रही हैं। क्योंकि, यहां बिना कोरोना जांच कराएं निगेटिव रिपोर्ट भी आ जाता है।

जी हां, आश्चर्य मत करिए मरने के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव भी आ जाता है। पुलपथार गांव में 25 व्यक्तियों को कोरोना के नाम पर दवा दी जाती है। लेकिन यहां छौड़ाही बीडीओ 40 कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट का दावा करते हैं। गुरुवार को पुनः कई व्यक्ति के मोबाइल पर कोरोना जांच रिपोर्ट नेगटिव आने की सूचना मिली जबकि इन लोगों ने यहां कभी कोरोना जांच कराया ही नहीं है। कोरोना के इस फर्जी रिपोर्ट देख हैरान परेशान लोग दोषियों पर कार्रवाई कर सही आंकड़ा प्रस्तुत करने की मांग जिलाधिकारी से की है

केस एक : छौड़ाही प्रखंड के सिहमा निवासी अमित कुमार राय ने बताया कि आज उनके मोबाइल पर मैसेज आया है कि अमित कुमार राय आपके आईडी एसवाईएस-सीओभी-बीआई-बीजीएस 20-25006445 ,दिनांक 18 मई 2021 को आपका कोरोनावायरस की जांच के लिए सैंपल लिया गया था। एंटीजन जांच में वह रिपोर्ट नेगेटिव पाया गया है।आपका ओटीपी नंबर 27481235 है। अमित कुमार राय ने बताया कि वह अपना टेस्ट राजस्थान के कोटा में पिछले माह के 20 अप्रैल को कराए थे। वहां रिपोर्ट नेगेटिव मैसेज में प्राप्त हुआ था। आज यह जांच रिपोर्ट भेजे जाने से वह हैरान परेशान हैं। वह 18 तारीख को बिहार ही नहीं पूरे देश में कहीं भी कोरोना जांच नहीं कराए हैं। यह कोरोना जांच गलत एवं फर्जी रिपोर्ट है।

केस दो : छौड़ाही के रामप्रवेश महतो बताते हैं कि उन्होंने 18 मई 2021 को कोरोना जांच नहीं करवाया है । लेकिन उनके मोबाइल पर मैसेज आया है कि रामप्रवेश महतो आपके आईडी एसवाईएस-सीओभी- बीआए-बीजीएस- 2025006476 दिनांक 18 मई 2021 को आपका कोरोनावायरस की जांच के लिए सैंपल लिया गया था। एंटीजन जांच में वह रिपोर्ट नेगटिव पाया गया है। आपका ओटीपी नंबर 27481247 है। रामप्रवेश बताते हैं कि वह अपने पुत्र को लाने अप्रैल माह में राजस्थान गए थे। वहीं कोरोना जांच कराए ,जिसमें मैसेज के द्वारा नेगेटिव रिपोर्ट प्राप्त हुआ था। 18 मई को कोरोनावायरस जांच और आज नेगेटिव रिपोर्ट होने की सूचना दी गई है। यह स्वास्थ्य विभाग एवं स्थानीय प्रशासन के फर्जीवाड़ा को अंकित कर रहा है

केस तीन : प्रखंड के सहुरी पंचायत के पंचायत समिति सदस्य पुलपथार निवासी देवेंद्र यादव धर्मेंद्र एवं मध्य विद्यालय प्राणपुरा के शिक्षक रामाधार पासवान बताते हैं कि उनके गांव में जांच शिविर में एंटीजन जांच में 25 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 26 में व्यक्ति जंगली पासवान का रिपोर्ट उस समय नेगेटिव आया था। उनका rt-pcr जांच के लिए नमूना लिया गया था। पॉजिटिव रिपोर्ट आने से पहले उनकी मौत हो गई। फिर बताया गया कि यहां 40 कोरोना मरीज हैं। जबकि 25 व्यक्ति को ही दवा एवं अन्य सबूत उपलब्ध कराए गए हैं। 15 व्यक्ति कौन हैं और कहां जांच कराए हैं यह पता नहीं है। पीएचसी प्रभारी डॉ कमलेश कुमार ने बताया कि जांच हुआ है। रजिस्टर में विवरण दर्ज है।

You cannot copy content of this page