बेगूसराय : एक ग्लास पानी बना जान का दुश्मन , दिव्यांग की पीट-पीटकर हत्या

JAAN

न्यूज डेस्क : ग्रामीण का महज एक गिलास पानी पी लेने की सजा दिव्यांग को दर्दनाक मौत के रुप में मिली। बिना पूछे पानी पी लेने से गुस्साए दिव्यांग के ग्रामीण ने ही जलकर से घर तक बेरहमी से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। इलाज के दौरान शुक्रवार को दिव्यांग की मौत हो गई। घटना बेगूसराय के छौड़ाही ओपी क्षेत्र के बड़ैपुरा गांव के कुरहा जलकर की है। दिव्यांग की हत्या के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है । छौड़ाही पुलिस एक आरोपित को गिरफ्तार कर कार्रवाई में जुटी हुई है।

मृतक बड़ैपुरा निवासी 50 वर्षीय छोटेलाल सहनी की पत्नी मिथलेश देवी ने बताया कि दो दिन पहले गांव के कुरहा जलकर पर मछली पिटाई हो रहा था। जहां उनके एक पैर से दिव्यांग पति छोटेलाल साहनी मछली लाने गए थे। तेज धूप रहने के कारण प्यास लगने पर उनके पति ग्रामीण बड़ैपुरा निवासी दिनेश सहनी के पीने के पानी में से उन्हीं के गिलास में पानी डालकर पानी पीने लगे।

अपने ग्लास में पानी पीता देख दीपक साहनी और दिनेश साहनी ने उनके पति पति छोटेलाल सहनी को लाठी डंडा से पीट-पीटकर गंभीर रूप से घायल कर बेहोश कर दिया। किसी तरह वह अन्य ग्रामीणों के सहयोग से घर आए। यहां भी दोनों आरोपितों ने घर में घुसकर बेरहमी से उनके पति एवं बचाने आए स्वजनों की पिटाई कर दी। मिथलेश देवी ने बताया कि घायल पति को इलाज हेतु सदर अस्पताल बेगूसराय में भर्ती कराया। जहां स्थिति गंभीर देख पीएमसीएच पटना में भर्ती कराया। जहां ब्रेन हेमरेज होने से उसकी मौत हो गई।

ये भी पढ़ें   वाहन चैकिंग दौरान छौड़ाही पुलिस का अवैध वसूली को लेकर शोशल मिडिया पर हुआ वायरल

मृतक का शव गांव पहुंचते ही स्वजनों में कोहराम मच गया । मृतक की पत्नी एवं बेटे बेटियां रो रो कर बार-बार बेहोश हो जा रहे थे। मृतक की पत्नी रो-रो कर कर रही थी कि घर में खाने का एक दाना नहीं है। उनके पति जिंदा थे तो किसी तरह दो वक्त की रोटी मिल जाती थी। अब परिवार का जीवन यापन कैसे होगा। आर्थिक रूप से कमजोर रहने के कारण ग्रामीणों ने चंदा कर दिव्यांग छोटे लाल सहनी का इलाज कराया था। उनकी मौत के बाद ग्रामीणों के सहयोग से दाह संस्कार की भी व्यवस्था की जा रही है। ग्रामीणों का कहना था कि एक गिलास पानी पी लेने की सजा मौत नहीं हो सकती है। यह जघन्य अपराध है। इससे समाज में गलत संदेश गया है। हत्या आरोपित को जल्द से जल्द पुलिस गिरफ्तार कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में सजा दिलवाले का काम करें।

समाजसेवी विजय कुमार यादव, नारायण सहनी, पन्नालाल सहनी, कैलाश सहनी, बबलू यादव, लालबहादुर यादव ने परिवार को ढाढंस दे इस गरीब परिवार के जीवन यापन के लिए जिलाधिकारी से मुआवजा देने की मांग की है। छौड़ाही ओपी अध्यक्ष राघवेंद्र कुमार ने बताया कि एक हत्यारोपी दिनेश सहनी को गिरफ्तार किया गया है। घटना को गंभीरता से लिया गया है। बचे हत्या आरोपित को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बताया कि मृतक के स्वजनों को सुरक्षा का आश्वासन दिया गया है।