Friday, July 19, 2024
Spirituality

Laung Ke Totke : लौंग के इन टोटकों से हमेशा के लिए दूर हो जाएगी हर परेशानी, बस करना होगा ये काम!!

Laung Ke Totke : हर भारतीय रसोई में लौंग का इस्तेमाल किया जाता है। लौंग का इस्तेमाल सिर्फ रसोई में खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए ही नहीं बल्कि कई और चीजों में भी लिया जाता है। आपको बता दे कि कई लोग ऐसे हैं जो लौंग (Cloves) का इस्तेमाल तंत्र-मंत्र व पूजा-पाठ आदि में भी करते हैं।

इसके अलावा लौंग से टोटके भी किए जाते हैं। दरअसल लाल किताब में लौंग के कुछ ऐसे टोटके बताए गए हैं जिनसे आप अपनी आर्थिक समस्या, दुख, परेशानी, चिंता आदि को दूर कर सकते हैं। इसलिए आज हम आपको लौंग के कुछ ऐसे टोटके बताने जा रहे हैं जिन्हें करने से आपके घर में सुख समृद्धि बढ़ने के साथ ही पैसों की बारिश भी होगी।

लौंग के चमत्कारिक टोटके :

  • अगर आप किसी आर्थिक समस्या, घर में चल रही परेशानी और दुखों से छुटकारा पाने चाहते हैं तो लौंग के इन उपायों से काफी असर पड़ेगा। आपका हर बिगड़ा हुआ काम बन सकता है।
  • अगर आपके जीवन में कई सारी परेशानियां एक साथ आ रही है और यह खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। धन की हानि हो रही है और परेशानी आ रही है तो आपको शिवलिंग पर दो लौंग अर्पित करने है। अगर आप लगातार 40 दिन तक शिवलिंग पर दो लौंग अर्पित करते हैं तो आपके जीवन में आ रही सभी बाधाएँ दूर हो जाएगी।
  • यदि आपके बनते हुए काम बिगड़ रहे हैं और किसी भी काम में सफलता नहीं मिल रही है तो मंगलवार के दिन हनुमान जी की मूर्ति के सामने चमेली के तेल का दीपक जलाएं। इसके साथ ही चमेली के तेल में दो लौंग भी डाल दे। इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ करते हुए उनकी आरती भी करें। ऐसा आपको लगातार 21 मंगलवार तक करना है, जिससे आपको हर काम में सफलता मिलेगी।
  • इसके अलावा अगर आप किसी काम के लिए घर से निकल रहे हैं तो मुंह में दो लौंग दबा कर निकले और अपनी ईष्ट देव को याद करें। ऐसा करने से आपको सफलता मिल सकती है।
  • आपकी कुंडली में राहु और केतु बुरा प्रभाव डाल रहे हैं और आपका बीमारियों से पीछा नहीं छूट रहा है तो शनिवार के दिन लौंग का दान करें। ऐसा करने से राहु-केतु का दोष समाप्त हो जायेगा।

Durga Partap

दुर्गा प्रताप पिछले 1 सालों से बतौर Editor में के रूप में thebegusarai.in से जुड़े। इन्हें बिजनेस, ऑटोमोबाइल्स और खेल जगत से जुड़ी खबरे को गहराई से लिखने में काफी दिलचस्पी है। पिछले 5 साल से वह कई समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लगातार योगदान देते रहे हैं। दुर्गा ने MDSU से BCA की पढ़ाई पूरी की है।