बिहार में अब एक क्लिक पर उपलब्ध होंगे जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र, नहीं लगाना होगा सरकारी ऑफिस का चक्कर, जानें- नई प्रक्रिया

Bihar

न्यूज डेस्क : बिहार सरकार ने आम जनता को थोड़ी सहूलियत देने के लिए एक बेहतरीन तरकीब निकाला है। जिससे आम नागरिकों इस छोटा सा काम के लिए सरकारी ऑफिस का भाग दौड़ करने की जरूरत नहीं पड़ेगा। दरअसल, बिहार सरकार ने जन्म मृत्यु का प्रमाण पत्र ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध करने का निर्णय लिया है। जिसे आम नागरिक बस एक क्लिक में ऑनलाइन डाउनलोड कर सकेंगे। आईटी विभाग की ओर से पोर्टल तैयार किया जा रहा है। जल्द इस पोर्टल पर जन्म-मृत्यु का ब्योरा अपलोड होने लगेगा। बता दे की इस लिहाज से बिहार देश का पहला राज्य होगा जो नियमित अपडेट के साथ जन्म और मृत्यु के अपडेट आंकड़े सार्वजनिक प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध करा देगा।

कोरोना काल में मृत्यु आंकड़ा छुपाए जाने को लेकर सवाल उठे थे: बताते चलें कि जन्म-मृत्यु का विवरण अपलोड करने की सारी तैयारी नगर विकास विभाग एवं पंचायती राज विभाग के माध्यम से हो रही है। विभाग इसके लिए एक पोर्टल का निर्माण कर रहा है। जिस तरह से कोविड-19 के बाद देशभर में प्रतिदिन होने वाली मौत के आंकड़ों को लेकर कई सवाल उठने लगे थे। वैसे में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सभी राज्य और केंद्र सरकार को ऐसे आंकड़ों को सार्वजनिक करने का निर्देश दिया था।

मुखिया अपने क्षेत्र से जन्म और मृत्यु के आंकड़ों की रिपोर्ट भेजेंगे: बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का आदेश मानते हुए यह बेहतरीन पहल की शुरुआत की है। जो आने वाले दिनों में दूसरे राज्यों के लिए एक उदाहरण भी पेश करेगा। बता दे की इसकी जवाबदेही शहरी और ग्रामीण निकायों के जनप्रतिनिधियों को दी जाएगी। जैसे की वार्ड पार्षद से लेकर मुखिया अपने क्षेत्र में होने वाले जन्म और मृत्यु के आंकड़ों की रिपोर्ट भेजेंगे। और शहरी निकाय और ग्राम पंचायत स्तर के पदाधिकारी इन आंकड़ों को अपडेट करने में उनकी मदद करेंगे।

You cannot copy content of this page