December 10, 2022

दिल्ली के पूर्व कप्तान का बड़ा खुलासा,वार्नर ने जितना अभ्यास किया उससे ज्यादा पार्टी की, खिलाड़ियों से लड़ाई की

ipl 2022 news

डेस्क : IPL के लीग मैच लगभग खेले जा चुके है। यह विश्व की प्रसिद्ध लीग है। इस कैश रिच लीग की शुरुवात साल 2008 से हुई थी। राजस्थान रॉयल्स शेन वॉर्न की कप्तानी में पहली चैंपियन टीम बनी।ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डेविड वार्नर शानदार फॉर्म में है। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ हुए मुकाबले में वार्नर ने 58 गेंदों में शानदार 92 रनों की पारी खेली। वार्नर का यह इस सीजन तीसरा अर्धशतक था।

दिल्ली डेयरडेविल के लिए वार्नर ने साल 2009 से 2013 तक IPL खेला है। 2013 से 2021 तक वार्नर सनराइजर्स हैदराबाद से जुड़े रहे। साल 2016 में वार्नर की कप्तानी में हैदराबाद खिताब विजेता बनी। IPL 2022 मेगा ऑक्शन में 6.5 करोड़ में वार्नर की बोली लगाकर उन्हें फिर से दिल्ली की टीम में शामिल किया गया। दिल्ली डेयरडेविल के पूर्व कप्तान वीरेंद्र सहवाग ने डेविड वार्नर पर बड़ा बयान दिया है।सहवाग ने बताया की 2009 में अपना पहला IPL खेल रहे वार्नर प्रैक्टिस पर ध्यान नहीं देते थे,पार्टी करते थे और कई बार खिलाड़ियों से लड़ चुके है,इसलिए बीच सीजन उन्हे सबक सिखाने के लिए वापस भेज दिया गया।

“मैंने भी अपनी निराशा कुछ खिलाड़ियों पर निकाली है और डेविड वार्नर उनमें से एक थे,क्योंकि जब वह नए शामिल हुए थे, तो उन्होंने अभ्यास या मैच खेलने में विश्वास नहीं करते थे। पहले वर्ष में, उनका कुछ खिलाड़ियों के साथ झगड़ा हुआ था तो हमने उसे पिछले दो मैचों के लिए वापस भेज दिया,” सहवाग ने cricbuzz को बताया।

“तो कई बार ऐसा होता है कि आप किसी को सबक सिखाने के लिए बाहर कर देते हैं। वह नया था इसलिए उसे दिखाना जरूरी था कि आप अकेले टीम के लिए महत्वपूर्ण नहीं हैं, दूसरे भी हैं। ऐसे और भी खिलाड़ी हैं जो टीम के लिए मैच खेल सकते हैं और जीत भी सकते हैं। और यही हुआ। हमने उसे टीम से बाहर रखा और जीत भी हासिल की।”वीरेंद्र सहवाग ने आगे बढ़ते हुए कहा। डेविड वार्नर के नाम IPL में सबसे ज्यादा अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड है। वार्नर ने इस सीजन 59.33 की औसत से 396 रन बनाए है।