अब घर बैठे चुटकियों में बन जाएगा आपके बच्‍चे का बर्थ सर्टिफिकेट, जानें – पूरा प्रोसेस…

bachcha

डेस्क : जन्म प्रमाण पत्र एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। हमें अक्सर इसकी आवश्यकता होती है। स्कूल कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए। यदि आप किसी सरकारी सेवा का लाभ लेना चाहते हैं या पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करना चाहते हैं तो जन्म प्रमाण पत्र अनिवार्य हो जाता है। यदि आपका जन्म किसी सरकारी अस्पताल में हुआ है तो यह अस्पताल द्वारा ही जारी किया जाता है। अगर आपका जन्म घर में हुआ है या आप जन्म के समय जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन नहीं कर पाए हैं, तो आपको खुद आवेदन करना होगा और अपना जन्म प्रमाण पत्र बनवाना होगा। इस सेवा का लाभ आप घर बैठे भी ऑनलाइन उठा सकते हैं।

जन्म प्रमाण पत्र जन्म से 21 दिनों के भीतर पंजीकृत होना चाहिए लेकिन अगर आप 21 दिनों के बाद जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करते हैं या बच्चा चार से पांच साल या दस साल का है और आप जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। हम आपको आसान स्टेप्स में बताने जा रहे हैं कि कैसे आप ऑनलाइन इस सर्विस का फायदा उठा सकते हैं।

जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के लिए इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

  • माता-पिता का पहचान पत्र या आधार कार्ड
  • अस्पताल द्वारा दिया गया बच्चे के जन्म का प्रमाण पते का सबूत
  • 10वीं का सर्टिफिकेट अगर बच्चा 10वीं पास कर चुका है
  • हलफनामा यदि आप बच्चे के जन्म के 1 साल बाद जन्म प्रमाण पत्र बना रहे हैं
  • https://crsorgi.gov.in/web/index.php/auth/signUp वेबसाइट पर जाएं। यहां आने के बाद आपको एक लॉगइन पेज दिखाई देगा। जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी एक लॉगिन आईडी बनानी होगी। जिसके लिए आपको सबसे नीचे एक ऑप्शन मिलेगा। यह जनरल पब्लिक साइनअप पर लिखा होगा।
ये भी पढ़ें   दिल्ली के ड्राइविंग टेस्ट में अब कोई नहीं होगा फेल- हो गए ये बड़े बदलाव

आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। क्लिक करते ही आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन पेज खुल जाएगा। यहां आप लॉग इन आईडी के लिए आवेदन कर सकते हैं। यहां आपको एक फॉर्म भरना होगा। जिसमें आपको अपना नाम और नंबर के साथ अपनी ईमेल आईडी देनी होगी।

यहां आपको बच्चे की जन्मतिथि डालनी होगी। फिर आपको State के ऑप्शन में आना है और उत्तर प्रदेश को सेलेक्ट करना है। इसके बाद आपको उत्तर प्रदेश के जिस भी जिले से हैं उस जिले और गांव का चयन करना होगा। इसके बाद आपको अपनी नगर पंचायत का चयन करना है। इस फॉर्म को भरकर आप रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी कर लेंगे। इसके बाद आपकी ईमेल आईडी पर वेरिफिकेशन के लिए एक लिंक आएगा। इस पर क्लिक करके आपको अपनी आईडी एक्टिवेट करनी होगी।

इसके बाद आप अपने यूजर आईडी और पासवर्ड के जरिए इस पोर्टल पर लॉग इन कर पाएंगे। इसके बाद आपको जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करने के लिए जन्म पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आपके सामने जन्म प्रमाण पत्र के पंजीकरण का फॉर्म खुल जाएगा। यहां से आप अपनी भाषा के साथ-साथ अपनी क्षेत्रीय भाषा भी चुन सकते हैं।

आपको फॉर्म नंबर के ऑप्शन पर आना है। यहां आपके पास कोई फॉर्म नंबर नहीं होगा तो आप कोई भी चार से पांच अंक भर सकते हैं। यहां नीचे दिए गए पेज पर आप डेट ऑफ बर्थ वाले सेक्शन में आएंगे और डेट ऑफ बर्थ सेलेक्ट करेंगे। इससे उसका जेंडर भी भर जाएगा। इसके बाद आपको बच्चे से जुड़ी जानकारी भरनी है।

ये भी पढ़ें   अब "हर घर तिरंगा" नारे से जीत सकते हैं 30 हजार रूपए- जानें डिटेल

इसके बाद आपको अपने राज्य का चयन करना होगा। अपने जिले और फिर गांव का चयन करें। यदि आप किसी शहरी क्षेत्र में रहते हैं तो वहां की जानकारी और यदि आप ग्रामीण क्षेत्र में रहते हैं तो जानकारी दर्ज करनी होगी। फिर आपको माता-पिता से संबंधित जानकारी भरनी होगी। इसके बाद बच्चे का जन्म कहाँ होता है? यह जानकारी आपको किसी डॉक्टर के पास, अस्पताल में या घर पर भरनी होगी। इसके बाद डिलीवरी का तरीका भरना होगा। यानी बच्चे का जन्म नॉर्मल तरीके से या ऑपरेशन के जरिए होता है। आपको रिपोर्टिंग फॉर्म डाउनलोड करना होगा और उसे पेन से भरना होगा। फिर माता-पिता को हस्ताक्षर करना होगा। फिर आपको वही फॉर्म यहां अपलोड करना होगा। इसके बाद आपको यह फॉर्म सबमिट करना होगा।

इसके बाद आप लॉग आउट हो जाएंगे। रसीद देने के लिए आपको एक बार फिर यूजर आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल कर लॉग इन करना होगा। यहां से आप अपनी रसीद डाउनलोड कर सकते हैं। उसके बाद आपको वह रसीद रजिस्ट्रार के पास जमा करनी होगी। जिसका पता नीचे दिया गया है। आपको यह फॉर्म उसी पते पर जाकर जमा करना होगा जो रसीद पर है। इसके बाद आपको जन्म प्रमाण पत्र की फिजिकल कॉपी मिल जाएगी।

यदि आपने 21 दिनों के भीतर पंजीकरण नहीं कराया है, तो उस स्थिति में यदि बच्चे को सरकारी अस्पताल में टीका लगाया गया है, तो उस टीकाकरण कार्ड के माध्यम से आप पांच साल के लिए किसी भी समय जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं।

अगर पांच साल से ज्यादा हो गए हैं, तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। ऐसे में आपको रजिस्ट्रार के पास जाकर ही आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको कुछ दस्तावेजों और अतिरिक्त फीस की जरूरत होगी जो आपकी उम्र के हिसाब से ली जाएगी।

ये भी पढ़ें   Train Ticket : अब ट्रेन का टिकट कैंसिल कराने पर पहले से कम मिलेगा रिफंड, जानें - रेलवे का नया नियम

जन्म प्रमाण पत्र ऑफलाइन भी बनाया जा सकता है

  • उम्मीदवार पहले नगर निगम या नगर पालिका में जाकर फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं।
  • यदि शिशु का जन्म अस्पताल में हुआ है, तो अस्पताल के कर्मचारी आपको स्वयं फॉर्म देंगे।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने के बाद उम्मीदवार को फॉर्म को सभी दस्तावेजों के साथ उसी कार्यालय में जमा करना होगा जिस कार्यालय से आपने फॉर्म लिया है।
  • उसके बाद रजिस्टर में जन्म के सभी रिकॉर्ड जैसे जन्म तिथि, जन्म स्थान, माता-पिता का नाम, अस्पताल का नाम आदि का सत्यापन किया जाएगा।
  • एक बार सभी रिकॉर्ड सत्यापित हो जाने के बाद, जन्म प्रमाण पत्र तैयार किया जाएगा।
  • 15 से 20 दिनों के बाद, उम्मीदवार द्वारा पंजीकृत पते पर जन्म प्रमाण पत्र भेजा जाएगा या उम्मीदवार कार्यालय में जाकर स्वयं जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकता है।