परिवार ने छोड़ा साथ तो अंतिम संस्कार के लिए पत्नी को साइकिल पर ले जाने लगा वृद्ध- आधे रास्ते पर हिम्मत टूटी तो पुलिस ने दिया साथ

Coronavirus death in jaunpur Uttar Pradesh

डेस्क : इस वक्त देश के हर कोने से कोरोना के मरीजों की मौत की खबर सामने आ रही है, ज्यादातर देश में कोरोनावायरस की मृत्यु हो रही है। बता दें कि संक्रमण इतना फैल गया है कि लोगों के फेफड़े को नष्ट कर दे रहा है। ऐसे में हर राज्य में ऑक्सीजन की कमी हो गई है और हॉस्पिटल के बेड की भारी मात्रा में कमी हो गई है। ऐसे में एक तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो रही है, जिसको देखकर लोगों के रोंगटे खड़े हो जा रहे हैं।

बता दें कि यह मामला उत्तर प्रदेश के जौनपुर का है जहां पर गांव के निवासी तिलकधारी सिंह की पत्नी राजकुमारी देवी जिनकी उम्र 55 वर्ष है उनकी मृत्यु हो गई है मृत्यु के बाद अंतिम संस्कार के लिए कोई भी आगे नहीं आया। इसके बाद उन्होंने फैसला किया कि वह अपनी पत्नी को साइकिल पर लेकर जाएंगे लेकिन जब वह अपनी पत्नी की लाश को साइकिल पर लेकर जा रहे थे, तब उनकी हिम्मत हार गई और वह साइकिल एवं अपनी पत्नी को बीच रास्ते में छोड़ कर किनारे पर बैठ कर रोने लगे।

जैसे ही यह मामला पुलिस के पास पहुंचा तो पुलिस ने तुरंत हरकत में आ कर महिला का अंतिम संस्कार किया। कुछ दिन पहले मृतक महिला को बुखार आया था, जिसके चलते दिन प्रतिदिन उसकी तबीयत खराब होती चली गई। ऐसे में तिलकधारी सिंह ने अपनी साइकिल उठाई और वह महिला को अस्पताल की ओर ले गया लेकिन वह महिला को बचा नहीं सका। जब उसने लोगों से मदद मांगी तो उसके परिवार वाले भी आगे नहीं आए। ऐसे में तिलकधारी ने निश्चय किया कि वह खुद ही महिला का अंतिम संस्कार करेगा, वापसी का रास्ता तय करते हुए वह इतना लाचार हो गया कि रास्ते किनारे बैठ कर रोने लगा। इलाके की पुलिस ने जब तिलकधारी से बात की तो मामले को समझा और खुद अंतिम संस्कार किया।

You cannot copy content of this page