कॉमनवेल्थ गेम्स मे मिलने वाले मेडल का कितना होता है वजन ? जानें इनका असली वेट

gold medal

डेस्क : भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में कई खेलों में मेडल जीते हैं. इनमें स्वर्ण, रजत और कांस्य तीनों पदक आ चुके हैं और भी कई खेलों में मेडल आने की अभी उम्मीद है.भारत के सामने मेडल टेली में बढ़ रही संख्या के बीच जानते हैं इन मेडल्स के बारे में. क्या आपको पता हैं इन मेडल्स में कितना वजन होता है और ये साइज में कितने बड़े होते हैं साथ ही क्या सही में स्वर्ण, रजत सोने-चांदी के बने होते हैं?

बता दें कि तीन विद्यार्थियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में दिए जाने वाले मेडल डिजाइन किए हैं. इनका नाम Amber Alys, Francesca Wilcox और Catarina Rodrigues Caeiro है जिन्होंने बॉक्स और रिबन डिजाइन किया है. वहीं यदि मेडल के वजन की बात करें तो 150 ग्राम गोल्ड मेडल में वजन है. जबकि सिल्वर मेडल का भी 150 ग्राम वजन है. वहीं ब्रोंज या कांस्य पदक में 130 ग्राम वजन होता है और मेडल का डायमीटर 63 एमएम है. हालांकि ऐसा नहीं है कि स्वर्ण पदक सोने का बना होता है.

इसके अलावा ओलिपिंक गेम्स में दिए जाने वाले पदक भी पूरी तरह सोने से नहीं बने होते हैं. इन्हें बनाने में 92.5 फीसदी चांदी,6 फीसदी ब्रोंज और 1.45 फीसदी गोल्ड का इस्तेमाल किया जाता है. जबकि सिल्वर मेडल पूरी चांदी से बनते हैं. बता दें कि 1875 मेडल कॉमनवेल्थ गेम्स में बनाए गए हैं, जिसमें 283 इवेंट में इन्हें दिए जाएंगे. वहीं 13 इवेंट ऐसे होंगे जो मिक्स्ड होंगे.

ये भी पढ़ें   दिल्ली में अब नहीं मिलेगी CNG! रोज रात में इतने बजे बंद रहेंगे सीएनजी स्टेशन