दिल्ली में बिना मास्क के घूमना हुआ- आखिरी पाबंदी भी ख़त्म

bina mask ke ghoom rahe hain log

डेस्क : कोरोना की स्थिति देश की राजधानी दिल्ली में पूरी तरह नियंत्रण में है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की गुरुवार को हुई बैठक में इसे देखते हुए आम लोगों को राहत देने का फैसला लिया गया है. बैठक में फैसला लिया गया कि कमजोर वर्ग के लोग ख़ासतौर पर वे जिन्हें खांसी और बीमारी है उन्हें छोड़कर अन्य को में ढील दी जा सकती है. ये आदेश शुक्रवार को जारी हो सकते हैं.

बैठक में निर्णय लिया गया कि कोविड के इलाज में जुटे कर्मचारियों और इस्तेमाल होने वाले उपकरणों को अस्पतालों में चरणबद्ध तरीके से कम किया जाएगा. इसके लिये स्वास्थ्य विभाग एक कार्य योजना तैयार करेगा. वहीं ILI-SARI मामलों की निगरानी बढ़ाई जाए, जिससे किसी भी पूर्व चेतावनी का पता लगाया जा सके.

वहीं बैठक में कहा गया कि वैक्सीन की प्रिकॉशनरी डोज का प्रतिशत जो कि अभी 24 है, उसे 40 से 50% तक कम से कम बढ़ाया जाना चाहिये. वहीं सावधानीपूर्वक सीवेज सर्विलांस और जीनोम सीक्वेंसिंग के डेटा का विश्लेषण भी किया जाना चाहिए ताकि किसी भी नए वैरिऐंट का पता लगाया जा सके.

बता दें कि अप्रैल में डीडीएमए ने अपनी पिछली बैठक में सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया था और उल्लंघन करने पर 500 रुपये का जुर्माना तय किया था. पहले 2000 के जुर्माने का प्रावधान था और इसे पिछली DDM बैठक में घटाया गया था. हालांकि, महामारी अधिनियम जारी रहेगा जिससे कोरोना जांच और टीकाकरण जारी रहे.

ये भी पढ़ें   1 अक्टूबर से बढ़ने वाली है आम आदमी की परेशानी - अब CNG-PNG को लेकर बढ़ी कीमत