2 February 2023

बेरोजगारों की आई मौज! इस योजना से सरकार को मिलेगा हर महीना 40 हजार

pm modi

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY) केंद्र सरकार की एक पहल है जिसका उद्देश्य बेरोजगार शिक्षित युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करना है। 1993 में शुरू की गई यह योजना युवाओं और महिलाओं को बेरोजगार ऋण प्रदान करती है। योजना के तहत कई क्षेत्रों में प्रयास कर रहे युवाओं को खुद को सफल बनाने के लिए राशि दी जाती है।

केंद्र सरकार द्वारा पिछले कई दशकों से जरूरतमंदों के लिए समय-समय पर कई योजनाएं निकाली गई हैं। इनमें से यह भी ‘प्रधानमंत्री रोजगार योजना’ है। योजना के तहत 10 लाख शिक्षित बेरोजगार युवाओ को स्थायी स्वरोजगार प्रदान किया जाता है। PMRY समय के अनुसार अपने लक्ष्य तैयार करता है। पिछले साल के अंत की तरह इसने अगले 2 साल 6 महीनों में सेवा और व्यापार क्षेत्रों में 7 लाख छोटे व्यवसाय स्थापित करने का लक्ष्य रखा है।

  • क्या आप इस योजना में शामिल होने के योग्य हैं या नहीं? देखना
  • आवेदक 8वीं पास होना चाहिए
  • परिवार की वार्षिक आय 40 हजार रुपये प्रतिमाह से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • 3 साल से अधिक के लिए एक ही निवास का पता होना चाहिए
  • उम्मीदवार डिफाल्टर नहीं होना चाहिए
  • योजना के तहत अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों और महिलाओं को मदद मिलेगी।
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति लाभार्थी और महिलाओं की अधिकतम आयु सीमा 45 वर्ष होगी
  • पूर्वोत्तर राज्यों के लाभार्थियों के लिए अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष रखी गई है।
  • इस तरह आवेदन करें
  • आप PMRY की आधिकारिक वेबसाइट pmrpy.gov.in पर जाकर आवेदन पत्र डाउनलोड करके अपनी आवेदन प्रक्रिया को आगे बढ़ा सकते हैं। आपको फॉर्म में जानकारी भरकर योजना के तहत आने वाले बैंक में जमा करनी होगी। आपको बता दें कि इस योजना के कई फायदे हैं। इनमें से कुछ साधारण ब्याज दर पर ऋण और काम के लिए ली गई राशि का 15 प्रतिशत सब्सिडी के तहत आएगा।