कोरोना वायरस प्रोटोकॉल के उल्लंघन में डीएम ने दुल्हा-दुल्हन को मैरिज हॉल से निकाला, हो गए सस्पेंड

Tripura DM Sailesh Yadav

डेस्क : इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा था। जिसमें पश्चिमी त्रिपुरा डीएम शैलेश कुमार यादव एक मैरिज हॉल में घुसकर दूल्हे, पंडित और शादी में शामिल अन्य मेहमानों के साथ अभद्र व्यवहार कर रहे थे। लेकिन अब उसका खामियाजा डीएम साहब को उठाना पड़ा। दरअसल, वह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था। देश के करोड़ों लोग इस वीडियो को देख चुके थे। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर DM शैलेश कुमार यादव पर को पद से हटाने का दबाव बढ़ता गया था।

इस घटना को लेकर डीएम ने अपनी गलती मान ली थी: वहीं इस मामले में लेकर कानून मंत्री रतन लाल नाथ ने बताया कि इस मामले में डीएम ने अपनी सारी गलती मान ली है। हु इस घटना को लेकर कानून मंत्री ने बताया कि मुख्य सचिव शैलेश कुमार यादव को सस्पेंड किया दिया गया है। रावल हेमेन्द्र कुमार को जिले का नया डीएम नियुक्त कर दिया गया है। 26 अप्रैल को डीएम ने एक मैरीज होम से जाकर शादी को बीच में ही रुकवा दिया था। साथ ही दूल्हे, पंडित समेत अन्य मेहमानों के साथ बदसलूकी की थी। इस घटना की कड़ी आलोचना हुई थी। अब इस मामले की जांच दो सीनियर आईएएस अफसर कर रहे हैं।

बीजेपी विधायक ने पद से हटाने की मांग की: डीएम शैलेश कुमार यादव की इस हरकत पर बीजेपी विधायक आशीष दास उन्हें पद से हटाने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए थे। अशीष दास का कहना है कि उन्हें खुशी है कि शैलेश कुमार यादव ने अपनी गलती को माना है। डीएम शैलेश यादव के दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। एक वीडियो डीएम द्वारा मैरिज हॉल पर की गई कार्रवाई के दौरान के थे। डीएम कोरोना महामारी के इस समय में आयोजित शादी समारोह में शामिल लोगों द्वारा कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किए जाने पर भड़क

You may have missed

You cannot copy content of this page