इस शख्स को इतनी पसंद आई स्कार्पियो की अंदर ही बना डाला किचेन बाथरूम और बैडरूम

scorpio

डेस्क : कई बार आपने मोडिफाई कार या एसयूवी जरूर देखी होगी. लोग आजकल अपने शौक के लिए अपनी कार में कई पसंदीदा बदलाव करा लेते हैं, जो की दिखने में काफी अच्छे भी लगते हैं. लेकिन महिंद्रा स्कॉर्पियो एसयूवी को नीदरलैंड से आए इस शख्स ने अपनी एक घर में बदल दिया. इस मॉडिफाई एसयूवी में बाथरूम, किचन, बेडरूम और काम करने की जगह भी है.

दरअसल, कुछ सालों पहले नीदरलैंड से आए घूमने आए डेनी हैबेरर को भारत काफ़ी ज़्यादा पसंद आ गया. उन्होंने इस दौरान कई शहरों और खूबसूरत जगहों पर ट्रैवल किया. वे इसके बाद गोवा में एक दोस्त के रेस्टोरेंट में उनका साथ देने लगे. हालांकि, उनका नजरिया कोरोना महामारी ने बदल दिया.

डेनी एसटी ऑटो से बात करते हुए बताते हैं कि मुझे कोरोना महामारी ने एहसास दिलाया कि कुछ भी हो सकता है. इस बात का जब एहसास हुआ कि और भी बहुत सी ऐसी चीजें इस देश में हैं, जिन्हें अभी देखने की जरूरत है. वे पहला लॉकडाउन हटते ही इस घूमने निकल पड़े. वे अब इस मोडिफाइड एसयूवी में देश भर में घूमते हैं. डेनी बताते हैं कि होटलों में रोज रुकना और हर दिन टेंट लगाकर रहना, बहुत मुश्किल काम था. उन्होंने इसलिए एक स्कॉर्पियो को मोटरहोम में बदलने का फैसला किया.

हैबेरर बताते हैं कि मेरे पास अपनी मेडिकल किट और ऑक्सीजन सिलेंडर हैं. मैं रात को अपनी कार के सभी दरवाजे बंद करके रखता हूं और सुरक्षा के लिए खिड़कियां भी बंद कर देता हूं. कार में वेंटिलेशन के लिए चार पंखे हैं जो कि कार के अंदर रखी एक बैटरी से चलते हैं. हैबेरर कहते हैं कि दो लोगों के सोने के लिए इस कार में पर्याप्त जगह है और सामान रखने के लिए भी जगह है.

ये भी पढ़ें   Indian Railway : ट्रेन में वेटिंग टिकट कन्फर्म करने के लिए TTE का टेंशन खत्म, जानें - रेलवे का नया नियम..

हैबेरर बताते हैं कि एक स्टोव बर्नर उनके पास है और वे किसी भी दुकान से जरूरी सामान खरीद लेते हैं. इसके अलावा अंदर एक फ्रिज भी है, जो बैटरी से चलता है. नहाने समेत रोजमर्रा के अन्य जरूरी काम भी डेनी इसी कार में करते हैं. एक पानी की टंकी भी कार में लगी है, जिसमें कुल 75 लीटर पानी आ जाता है. हालांकि, वे बताते हैं कि कई बार उन्हें कपड़े धोने के लिए के लिए किसी होटल में जाना पड़ता है.