बचा है सिर्फ एक दिन का कोयला, कभी भी गुल हो सकती है पूरी दिल्ली की बिजली – विवेकपूर्ण होकर करें इस्तेमाल

Bijli Koyla Apoorti

डेस्क : इस वक्त देश में बिजली का संकट गहरा गया है। बता दे कि देश के कई राज्य इस वक्त बिजली की मार झेल रहे हैं। कोयले की आपूर्ति कम हो गई है ऐसे में बिजली का उत्पादन भी घटकर सामान्य स्तर से नीचे चला गया है, जिसके चलते कई राज्यों में बिजली पहुंचाना मुश्किल हो गया है। बता दे कि भारत की राजधानी दिल्ली में बिजली का संकट आने वाला है। ऐसे में यदि आप दिल्ली से हैं तो सतर्क हो जाएं।

देशभर में कोयले की कमी को लेकर बिजली वितरण कंपनी टाटा पावर दिल्ली डिसटीब्यूशन लिमिटेड के सीईओ गणेश श्रीनिवासन का कहना है कि बड़े स्तर पर कोयले की कमी के कारण दिल्ली वालों को बिजली नहीं मिल पा रही है। ऐसे में बिजली को सुचारू रूप से चलाने के लिए 20 दिन के मुकाबले मात्र 2 दिन के लिए ही कोयला भंडार बचा हुआ है। कभी भी दिल्ली की बिजली कट सकती है आने वाले समय में गंभीर स्थितियां उत्पन्न होने वाली है जिसके लिए सरकार कोयले की व्यवस्था करने के लिए भरपूर प्रयास कर रही है। फिलहाल के लिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

दिल्ली वासियों एवं उत्तर भारत के कई राज्यों में बिजली ग्राहकों को यह मैसेज भेजा गया है कि 2:00 बजे से लेकर शाम के 6:00 बजे तक बिजली गंभीर रूप से कट सकती है। ऐसे में विवेक पूर्ण होकर बिजली का इस्तेमाल करें। इसके लिए टाटा पावर डीडीएल ने माफी मांगी है वहीं रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर के द्वारा चलाई जा रही बीसीएस एवं बीआरपीएल ने इस बात पर किसी भी प्रकार से टिप्पणी नहीं की है। कोयले की कमी पर बिजली मंत्री आरके सिंह का कहना था कि हम मानते हैं लंबे समय से बिजली उत्पाद के लिए कोयले की जरूरत होती है। लेकिन अब हमारे आगे कोयले का संकट खड़ा हो गया है। आने वाले समय में बिजली पैदा करने के लिए कोयले की आपूर्ति हेतु नए संयंत्रों पर काम करना होगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page