बिहार के इस जगह में है सोने का भंडार, अगर ये मिल गया तो अमेरिका-चीन को भी पछाड़ देगा भारत! जानें रहस्य..

Bihar site choosen best

न्यूज डेस्क: भारत पहले एक सोने की चिड़िया रही है यह तो सब जानते है पर विदेशों से आए शासकों ने भारत से सब उठा ले गया, पर देश मे आज भी ऐसे कई रहस्यमई जगह है, जहाँ अब तक कोई नहीं जा पाया है। इनमें से एक ऐसा दरवाजा है, जो आज तक बंद है। यहा यह मान्यता है की सोन का भंडार है। बिहार के नालंदा जिले के राजगीर में स्थित है। ऐसा कहा जाता है कि इस जगह पर सोने का खजाना है, जिसे हर्यक वंश के संस्थापक बिम्बिसार की पत्नी ने छिपा रखा है। पर आज तक कोई इस खजाना तक नहीं पहुंच पाया है।

ऐसा माना जाता था की हर्यक वंश के संस्थापक बिम्बिसार को सोने चांदी से बेहद लगाव था। इसके लिए वह सोना और उसके आभूषणों को इकठ्ठा करते रहते रहते थे। बताया जाता है कि बिहार की इस गुफा में इस वंश का खजाना छिपाकर रखा गया है। बिहार के राजगीर में स्थित इस सोन भंडार को देखने व जानने के लिए आज भी पूरे विश्वभर से पर्यटक आते हैं पर कोई अब तक अंदर नहीं जा पाया है।

गुफा में दो बड़े कमरे एक समान बनाए गए थे। एक गुफा में सैनिक रहते थे जबकि दूसरे कमरे में खजानों को छिपाया गया था। इस कमरे को एक बड़े से चट्टान से ढका गया है, जिसे आज तक कोई नहीं खोल पाया। इस गुफा के दरवाजे पर जो चट्टान है उस में शंख लिपि में कुछ लिखा गया है। इसके संबंध में यह मान्यता प्रचलित है कि इसी शंख लिपि में इस खजाने के कमरे को खोलने का राज लिखा है।

वही इसे लेकर मान्यता है कि अगर कोई इस लिपि को पढ़ने में सफल हो जाता है तो वह सोन भंडार को खोल सकते हैं। अंग्रेजों के शासनकाल में तोप के गोलों से विस्फोट कर गुफा के भीतर जाने की कोशिश की गई, पर वह दरवाजा नहीं खोल पाए। वहा रह रहे स्थानीय लोगों का मानना है कि जो भी दरवाजे पर लिखी लेख को पढ़ लेगा वो दरवाजा खोल पाएगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page