December 7, 2022

खुल गया राज – श्रद्धा के मोबाइल में छिपा था हत्या का राज, अब खुलेगी आफताब के अपराध की पूरी कुंडली..

खुल गया राज - श्रद्धा के मोबाइल में छिपा था हत्या का राज, अब खुलेगी आफताब के अपराध की पूरी कुंडली.. 1

डेस्क : देश के चर्चित श्रद्धा हत्याकांड में रोज नए खुलासे हो रहे हैं आफताब पूनावाला ने श्रद्धा वाकर का मर्डर क्यों किया. इस सवाल का जवाब अभी तलाश किया जा रहा है, लेकिन अब इस पूरी स्टोरी में श्रद्धा के मोबाइल में मौजूद एक वीडियो की एंट्री भी हो गई, जिसे श्रद्धा वाकर ने आफताब के जाल से बच निकलने की चाबी मानती थी. श्रद्धा वाकर के एक दोस्त से मिली एक्सक्लूजिव जानकारी के मुताबिक, यह वीडियो अगर मिल जाता है तो श्रद्धा वाकर मर्डर केस में बहुत बड़ा खुलासा हो सकता है.

खुल रहे हैं आफताब के सारे पोल

आफताब पूनावाला ने जून में वसई से दिल्ली कुल 37 सामान शिफ्ट करवाये थे. इसके पीछे भी कातिल आफताब की एक सोची समझी साजिश थी. पुलिस से मिली एक जानकारी के मुताबिक, आफताब यह दिखाने की कोशिश में लगा था कि श्रद्धा उसे छोड़कर चली गयी और अपने साथ लाए गए हाउस होल्ड आइटम को भी लेकर चली गई और उसे अपनी जरूरत के सामान दोबारा वसई से मंगाने पड़े. इसके लिए उसने बाकायदा एक पैकर्स कंपनी से सामान मंगवाने के लिए Online बुकिंग की थी.

बढ़ गई हैं आफताब की पुलिस हिरासत

उधर, दिल्ली की एक अदालत ने आरोपी आफताब की पुलिस हिरासत मंगलवार को और 4 दिन के लिए बढ़ा दी, जबकि एक अन्य न्यायालय ने उसका पॉलीग्राफ टेस्ट कराने की भी इजाजत दे दी. आपताब की 5 दिनों की पुलिस हिरासत आज खत्म हो रही थी.

वहीं दूसरी तरफ बचाव पक्ष के वकील के मुताबिक, आफताब पूनावाला ने अदालत को बताया कि उसने क्षणिक आवेश में आकर वारदात को अंजाम भी दिया. उसने अदालत के समक्ष यह भी कहा कि वह पुलिस के साथ सहयोग कर रहा है. वही मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अविरल शुक्ला ने कहा, जांच अधिकारी द्वारा बताए गए कारणों के मद्देनजर, इस न्यायालय की यह राय है कि मामले में जांच के निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए आरोपी की पुलिस हिरासत भी बढ़ाई जाए. तदनुसार, आरोपी को 26 नवंबर तक 4 दिनों की अतिरिक्त अवधि के लिए पुलिस हिरासत में भी भेजा जाता है.

ये भी पढ़ें   सहरसा से नई दिल्ली के बीच दौड़ेगी की एक और सुपरफास्ट एक्सप्रेस, जानें - पूरा समय सारणी..