देश कोरोना की तबाही के मुहाने पर पहुंचा, तीसरी लहर की आशंका प्रबल , लापरवाही पड़ेगी भारी, 24 घंटे में मिले इतने मरीज

corona third wave

न्यूज डेस्क : कोरोना महामारी की दूसरी लहर की कहर का दंश झेल चुके देश फिर से उसी तबाही के मुहाने पर जा पहुँचा है । जिस तरह के आंकड़े कुछ राज्यों से बीते दिनों से कोविड एक्टिव केस के मिल रहे हैं उनको देख कर कुछ ऐसा ही अंदाज लगाया जा सकता है।

24 घंटे में मिले 41 हज़ार एक्टिव केस केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक बीते 24 घंटे में 41 हज़ार के लगभग कोविड एक्टिव केस देश भर से मिले हैं। जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र केरल है जहाँ पिछले पांच दिन से लगातार 20 हज़ार कोविड केस मिले हैं। पूरे देश मे अब तक 541 मौतें हो चुकी हैं जिनमे सिर्फ 80 केरल से हुईं हैं। यहाँ की कंडिशन को देखते हुए कम्पलीट वीकेंड लॉक डाउन लगा दिया गया है। सिर्फ ज़रूरत की दुकानें खुली रहनी है।

5 राज्यों में भी पाबंदियां इसके अलावे 5 राज्यों में लॉक डाउन जैसी पाबंदियां लगा दी गई है। पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, तमिलनाडु, मिज़ोरम, गोआ और पुडुचेरी में भी लॉक डाउन जैसी पाबंदियां लगा दी गई हैं। हालांकि लॉक डाउन अभी नही की गई है। इस बार कोविड के मरीज ठीक तो जल्दी हो जा रहें हैं पर कमोबेश हर रोज़ इस तरह एक्टिव केस बढ़ना इस तरफ ही इशारा कर रहा है कि कहीं फिर से देश को दूसरी लहर वाली ही स्थिति का सामना न करना पड़े। स्वास्थ्य मंत्रालय अभी से ही इसके लिए तैयार हो रहा है पर तैयारियां कितनी भी दुरुस्त हो बिना सजगता के सब बेकार ही रहती। लोग सुरक्षा का ध्यान न करते हुए बिना मास्क के ही बाहर निकल जाते हैं और सोशल डिस्टेंस तो दूर की बात है। चुकी अब बच्चो के स्कूल और कॉलेज भी धीरे धीरे खोले जा रहें है ऐसे में सिर्फ बचाव ही सुरक्षा कर सकता है। न सिर्फ सरकारी व्यवस्था बल्कि व्यक्तिगत सजगता ज़रूरी है।

लापरवाही पड़ेगी भारी दूसरी लहर की कहर कमते ही बाजार , सार्वजनिक परिवहन व भीड़भाड़ सहित अन्य सार्वजनिक जगहों पर लोग बेफिक्री से घूम रहे हैं। बिना मास्क और दो गज की दूरी का खयाल रखे मानो कोरोना को आमंत्रित कर रहे हैं। दुसरे तरफ कोविड वैक्सिनेशन की गति सरकार के द्वारा तेज की गई है।

You may have missed

You cannot copy content of this page