Indian Railway : वंदे भारत ट्रेन की सुविधओं की जिम्मेदारी अब TATA के पास होगी? जानें – क्या होगी फैसिलिटी..

Tata Steel Wande Bharat Seats

डेस्क : घरेलू स्टील कंपनी टाटा स्टील सितंबर से देश की हाईटेक ट्रेन ‘वंदे भारत’ में लगने वाली खास सीटों की आपूर्ति शुरू करने जा रही है. देश में अपनी तरह का यह पहला सीट सिस्टम होगा. टाटा स्टील के उपाध्यक्ष देवाशीष भट्टाचार्य के अनुसार, कंपनी के कंपोजिट सेक्शन को वंदे भारत एक्सप्रेस की 22 ट्रेनों के लिए सीटें मुहैया कराने का आदेश दिया गया है जिसकी कीमत करीब 145 करोड़ रुपये है.

ये स्टील की बनाई खास तौर पर डिजाइन की हुईं सीटें हैं जो 180 डिग्री तक घूम सकती हैं. इनमें विमानों की सीटों की तरह ही सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं. भारत में यह ट्रेन सीट की अपनी तरह की पहली सप्लाई है. इन सीटों की सप्लाई सितंबर से शुरू होगी और 12 महीनों में इसे पूरा किया जाएगा. आपको बता दें कि देश में चलने वाली सभी ट्रेनों में वंदे भारत का नाम सबसे ऊपर है.

Indian Railway : वंदे भारत ट्रेन की सुविधओं की जिम्मेदारी अब TATA के पास होगी? जानें - क्या होगी फैसिलिटी.. 1

वंदे भारत ट्रेनों के लिए तैयार की गईं फाइबर रिइंफोर्स्ड पॉलिमर की ये सीटें बनी हुई हैं और इनकी रखरखाव लागत भी बेहद कम होगी. ये सीटें सुविधाजनक होने के साथ यात्रियों की सुरक्षा बढ़ाने में भी मदद करेगी. याह पूरी तरह घरेलू स्तर पर बनाई गई है. वंदे भारत ट्रेन देश की सबसे तेज ट्रेनों में से एक है जो 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है. इसकी सुविधाएं भी काफ़ी हाईटेक हैं.

टाटा स्टील को वंदे भारत की सीटें बनाने का काम खास तौर पर दिया गया है. इसे देखते हुए टाटा स्टील सैंडविच पैनल बनाने के लिए महाराष्ट्र के खोपोली में एक नया प्लांट भी लगा रही है और इसमें नीदरलैंड्स की एक कंपनी टेक्निकल पार्टनर कंपनी है. रेलवे और मेट्रो के कोच में इंटीरियर के लिए इस प्लांट में बनने वाले सैंडविच पैनलों का इस्तेमाल किया जाएगा. इस पैनल का ट्रेन में सुविधाओं को बढ़ाने में बड़ा रोल होगा.

ये भी पढ़ें   आखिर किस वजह से राजधानी दिल्ली में हो रही है इतनी ज्यादा बारिश ? आने वाले 2 दिन के लिए फिर जारी हुआ अलर्ट