ड्यूटी के समय शराब पीकर ‘घोड़े बेचकर’ सोया स्टेशन मास्टर, दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर खड़ी कई एक्सप्रेस ट्रेनें

Railway Me

न्यूज डेस्क : यूपी के कानपुर इलाके से एक हैरतमंद कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है। बता दें कि लूप लाइन क्लियर होने के बावजूद भी सिंगल नहीं मिलने के कारण ट्रेन आउटर सिग्नल पर तकरीबन डेढ़ घंटे खड़ी रही और स्टेशन मास्टर शराब पीकर केबिन में सोए रहे। फिर किसी तरह आनन-फानन में स्टेशन मास्टर को जगाया गया और सिग्नल देकर ट्रेन को आगे की ओर रवाना किया गया। बता दें कि उक्त कंचौसी रेलवे स्टेशन का बताया जा रहा है। जहां रात्रि में शराब पीने के बाद सहायक स्टेशन मास्टर सो गए। बस होना क्या था, ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया।

जिसके कारण करीब डेढ़ घंटे तक दिल्ली-हावड़ा रेल रूट ठप रहा। जिसमें वैशाली एक्सप्रेस, संगम एक्सप्रेस, फरक्का और मगध एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के अलावा कई मालगाड़ियां जहां की तहां खड़ी रहीं। आपको बता दें कि कंचौसी रेलवे स्टेशन पर रात 12 से सुबह आठ बजे तक में सहायक स्टेशन मास्टर अनिरुद्ध कुमार मुस्तैद थे। ड्यूटी के समय रात में उन्होंने शराब पी ली। शराब पीने के कुछ देर बाद वह सो गए। जिस कारण ट्रेनों को कंचौसी स्टेशन के होम सिग्नल पर सिग्नल नहीं मिला। ट्रेनों के रुकने पर फफूंद रेलवे स्टेशन व झींझक स्टेशन मास्टर ने परिचालन कंट्रोल को सूचना दी। एक्सप्रेस व गुड्स ट्रेनों का परिचालन ठप होने की जानकारी पर अधिकारियों के होश उड़ गए। रेलवे स्टेशन स्टाफ में भी अफरातफरी मच गई। आनन-फानन में रेलवे स्टेशन पहुंचकर सो रहे स्टेशन मास्टर के मुंह पर पानी डाला। इसके बाद ग्रीन सिग्नल देकर ट्रेनों का संचालन शुरू कराया।

सस्पेंड कर दिया गया: वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक प्रयागराज एसके शुक्ल ने सहायक स्टेशन मास्टर को सस्पेंड कर दिया है। जनसंपर्क अधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि पूरे मामले की जानकारी की जा रही है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद स्टेशन मास्टर के शराब पीने की पुष्टि होगी।

You cannot copy content of this page