Taukte Cyclone : समंदर में फंसे जहाज P-305 का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, अब तक 37 Bodies बरामद

Rescue operation of stranded ship P-305 continues in the sea

डेस्क : चक्रवाती तूफान तौकते की वजह से भारत के पश्चिमी तट पर अनुमानित नुकसान से कई गुना ज्यादा नुकसान हो गया है। बता दें कि अरब सागर में इस वक्त चार जहाज फंसे हुए हैं। जिसमें से एक P-305 नामक जहाज है। इस P-305 नामक जहाज में 273 लोग सवार थे, जिसमें से 37 शव मिले हैं और बाकी लोगों की खोजबीन जारी है। इस जहाज का आकार काफी छोटा है, जिसके चलते यह मुंबई के नजदीकी तट पर फंस गया था।

जब तूफान आया तो यह तूफान की लहरों में गोते खाता हुआ डूब गया। यह खबर जब इंडियन नेवी रेस्क्यू ऑपरेशन को लगी तो उन्होंने तुरंत लापता लोगों की तलाश शुरू कर दी। इस जहाज में जितने भी लोगों को बचाया गया है उन सब ने इंडियन नेवी को धन्यवाद दिया है, बता दें कि तौकते तूफान महाराष्ट्र को छूकर निकल गया है। ऐसे में इस तूफान की वजह से भारत के पश्चिमी तट से लेकर उत्तरी इलाकों में मूसलाधार बारिश होती रही। तूफान की वजह से लोगों द्वारा फैलाया गया कचरा भी वापस तटों की ओर आ गया है। प्लास्टिक के कचरे का ढेर मुंबई के वर्ली में देखने को मिला है।

ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि P-305 के साथ अन्य चार जहाज भी इस वक्त मुसीबत में है। फिलहाल बचाए गए लोगों को खाने पीने की मदद भी दी गई है। नेवी का कहना है कि वह अपना सर्च ऑपरेशन लंबे समय से जारी रखे हुए हैं। नौसेना के एक आला अधिकारी का कहना है कि हम पूरी कोशिश कर रहे हैं लोगों की जान बचाने की। ऐसे में लोग उम्मीद रखें और हौसला बनाए रखें। हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचा लेंगे।

नौसेना के मुताबिक आई एन एस कोच्चि 188 लोगों को रेस्क्यू कर वापस ला चुका है। आई एन एस कोलकाता की तरफ से भी सकारात्मक खबरें आई है। इस तटरक्षक बल के साथ 10 जहाज और शामिल है। सबसे ज्यादा नुकसान P-305 नामक जहाज को हुआ है। इस जहाज़ से भटके हुए लोगों को आई एन एस कोलकाता और आई एन एस कोच्चि ढूंढने में जुटे हुए हैं। जहाज़ में फंसे 137 बचा लिया गया है। सभी को सही सलामत रेस्क्यू कर लिया गया है।

You cannot copy content of this page