PM मोदी के फैसले पर रेलवे का बड़ा ऐलान, अगले साल तक डेढ़ लाख कर्मचारियों की भर्ती

railway recruitment

डेस्क : लंबे समय से रेलवे में नौकरी करने के इंतज़ार कर रहे युवाओं के लिए खुशखबरी है। अगले एक साल के अंदर रेलवे ने डेढ़ लाख पदों पर भर्ती करने का फैसला लिया है। इस पूरी प्रक्रिया को अगले साल जून तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। रेलवे ने कहा कि बीते 8 सालों में हर साल लगभग 43,678 लोगों की भर्ती होती थी। अब इस साल 3 गुना अधिक कर्मचारियों की नियुक्ति होगी। रेलवे नया ऐलान तब किया है जब पीएम मोदी ने साल 2023 के अंत तक 10 लाख लोगों को नौकरी देने की बात कही है।

केंद्र सरकार के व्यय विभाग के मुताबिक, भारत सरकार के सभी विभागों में कुल 40.78 लाख पद हैं। इसके मुकाबले केवल 31.91 कर्मचारी ही नियुक्त हैं। अभी लगभग 9 लाख पद खाली है। यह आंकड़ा 2020 तक का था जिसमें यदि रिटायर कर्मचारियों को जोड़ लिया जाए तो यह 10 लाख हो जाता है। यह संख्या कुल पद के 25% से ज्यादा है। यानी आने वाले डेढ़ साल के अंदर केंद्र सरकार के कुल क्षमता के एक चौथाई कर्मचारियों की भर्ती होने वाली है। रिपोर्ट के अनुसार केंद्र सरकार के 92 फ़ीसदी अधिकारी रेलवे, डिफेंस, गृह मंत्रालय, डाक विभाग और रेवेन्यू डिपार्टमेंट में हैं।

सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी के आदेश के बाद तमाम विभागों ने रिक्त पदों का आंकड़ा एकत्रित करना शुरू कर दिया है। डिटेल हासिल होने के बाद भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी। केंद्र सरकार ने रेलवे में भर्ती करने का यह फैसला तब लिया है जब देश में बेरोजगारी का मुद्दा छाया हुआ है। रेलवे द्वारा डाटा जारी किया गया है जिसमें 2014 15 से लेकर 2021-22 तक 3,49,442 लोगों को भर्ती किया था। हर साल यह आंकड़ा लगभग 43,678 था। जिसके बाद डेढ़ साल में लगभग इसके 3 गुने अधिक लोगों को नौकरी दिए जाएंगे।

ये भी पढ़ें   Monsoon Update : अगले 5 दिनों तक देश के इन हिस्सों में जमकर बरसेंगे बादल, जारी हुआ अलर्ट..

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले पीटीआई ने जानकारी दी थी कि रेलवे 72000 पदों को खत्म करने वाला है। इसके पीछे का कारण बताया था कि तकनीक अपडेट होने के चलते ग्रुप सी और ग्रुप डी लेवल पर बहुत अधिक पदों की जरूरत नहीं है। इसलिए भविष्य की भर्तियों में इन पदों को समाप्त कर दिया जाएगा। साथ ही फिलहाल इन पदों पर नियुक्त लोगों को अन्य विभागों समायोजित किया जाएगा।