दिल्ली में पुराने वाहन मालिकों की आई शामत! सरकार ने दिए 3 विकल्प – यहीं चुनना होगा स्क्रेपिंग की जगह

NITIN GADKARI

डेस्क : दिल्ली में विंटेज मोटर्स के दिन जल्द ही खत्म होने वाले हैं। 15 साल पुरानी पेट्रोल मोटर और 10 साल पुरानी डीजल मोटर जल्द ही दिल्ली एनसीआर में स्क्रैप गैजेट्स का हिस्सा बनने लगेगी। भारत के केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को एक घोषणा जारी कर घोषणा की कि वह देश के हर जिले में कम से कम 3 पंजीकृत ऑटोमोबाइल स्क्रैपिंग सुविधाएं खोलेंगे। दिल्ली में कुल मिलाकर ग्यारह जिले हैं और जारी की गई घोषणा के अनुरूप पूरी दिल्ली में कम से कम 33 वाहन कबाड़ के उपकरण खोले जा सकते हैं।

दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग की वेबसाइट के मुताबिक इस समय दिल्ली में सबसे कम चार पंजीकृत वाहन कबाड़ हैं। जल्द ही उनकी विस्तृत विविधता को कम से कम 33 से गुणा किया जा सकता है।दिल्ली में पहले से ही एक समूह तैनात किया गया है, जिसका मिशन विंटेज और जंक मोटरों को सड़कों से स्क्रैप गैजेट्स तक बढ़ावा देना है। इसके लिए कंपनी को पेंटिंग दी गई है।अगर आपकी गाड़ी विंटेज है तो आप उसे एनसीआर लोकेशन से निकाल कर उसका प्रमोशन कर सकते हैं।

आप विंटेज मोटरों में बिजली से चलने वाले ऑटोमोबाइल किट लगाकर ऑटोमोबाइल का उपयोग कर सकते हैं।आप स्वेच्छा से अपनी कार से एक स्क्रैच यूनिट निकाल सकते हैं और एक दर का भुगतान कर सकते हैं और साथ ही आप एक नए के लिए खरीदारी करने पर स्क्रैप यूनिट के प्रमाण पत्र प्रदर्शित करने की सहायता से वाहन के नए शुल्क में छूट प्राप्त कर सकते हैं। ऑटोमोबाइल।

ये भी पढ़ें   अडानी-अंबानी के बीच कोई शिकार समझौता, अब नहीं देंगे एक-दूसरे के कर्मचारियों को नौकरी