अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए नहीं देना होगा किसी प्रकार का कोई टेस्ट, सरकार ने एक जुलाई से बदल दिये नियम

Driving Licence

न्यूज़ डेस्क : अगर आप भी नए ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की सोच रहे हैं। तो यह खबर को ध्यान से पढ़िए। बता दे की अब नए नियम के मुताबिक किसी भी चालक को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने किसी भी प्रकार की ड्राइविंग टेस्ट देने की जरूरत नहीं होगी।

हाल ही में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने इसके लिए 1 जुलाई से पुराने नियम को बदलकर गए नियम लागू किए हैं। इस नियम के मुताबिक अब चालकों को आरटीओ (RTO) जाकर ड्राइविंग टेस्ट देने की जरूरत नहीं होगी। अब इसके लिए चालकों को मान्यता प्राप्त ड्राइविंग सेंटर से ट्रेनिंग लेनी होगी। बता दें कि नए नियम मुताबिक सरकार ने हाल ही में राज्यवार ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर को मान्यता देना शुरू कर दिया है। जहां आप आसानी से टू-व्हीलर और फोर-व्हीलर चलाना सीख सकते हैं।

आपको सिर्फ 28 दिन के लिए ड्राइविंग सीखनी होगी: बता दे की नए नियम के अनुसार अब आपको ड्राइविंग सेंटर्स पर हल्के मोटर व्हीकल कोर्स के लिए 4 सप्ताह में 29 घंटे की ड्राइविंग करनी होगी। इसके साथ ही 28 दिनों में आपको ड्राइविंग सीखनी भी होगी। अगर ड्राइविंग सेंटर्स आपको पास कर देते हैं तो फिर आपको ड्राइविंग लाइसेंस के लिए कोई और टेस्ट नहीं देना होगा। अगर आप भारी वाहन की ड्राइविंग सीखना चाहते हैं तो आपको 6 सप्ताह में 38 घंटे मे सीखनी होगी। इसमें भी थ्योरी और प्रैक्टिकल शामिल हैं।

You cannot copy content of this page