Indian Railway : अब ट्रेन में महिलाओं को हमेशा मिलेगी कंफर्म सीट, जानिए – पूरा तरीका..

Indian Railway

डेस्क: भारतीय रेलवे भारतीय लोगों का यात्रा करने का एक बेहतरीन साधन है, प्रतिदिन लाखों यात्री भारतीय रेल की मदद से अपने यात्रा को सफल बनाते हैं, इसके साथ ही रेलवे द्वारा सुरक्षा व्यवस्था को लेकर ऐसे बहुत सारे नियम बनाए गए जो यात्रियों को हमेशा सुरक्षा प्रदान करें, इसी बीच रेलवे ने एक बार फिर से महिलाओं के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। अब महिला यात्रियों को ट्रेन में कठिनाइयों का सामना करना नहीं पड़ेगा, क्योंकि रेलवे ने उसके लिए अलग से पुख्ता नियम बना लिया है, चलिए विस्तार से जानते हैं।

आप लोग इस बात से भलीभांति परिचित होंगे, मेट्रो में या फिर सरकारी बसों में महिला यात्रियों को लेकर अलग से रिजर्व सीट होता है, ठीक इसी प्रकार अब भारतीय ट्रेनों में भी महिलाओं के लिए अलग से रिजर्व सीट होगा। रेलवे ने यह नियम उन यात्रियों के लिए बनाया है, जो लंबी दूरी ट्रेन यात्रा करता है। वही केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि लंबी दूरी की ट्रेनों में महिलाओं की आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे ने रिजर्व बर्थ निर्धारित करने सहित कई सुविधाएं शुरू की हैं।

जानकारी के मुताबिक, भारतीय रेलवे ने स्लीपर (SL) और एसी (AC) कोच में कुछ सीट रिजर्व की हैं। जिनको केवल महिलाओं को ही अलांट किया जाया करेगा। इसके साथ ही महिलाओं को ट्रेन में सुरक्षा भी मिलेगी। जिसके लिए रेलवे ने खास प्लान तैयार किया है। वही अभी तक ट्रेन के अंदर सुरक्षा का जिम्मा रेलवे सुरक्षा बल के पास होता था। लेकिन अब यात्रियों की सुरखामें आरपीएफ (RPF) की मदद के लिए जीआरपी (GRP) और जिला पुलिस भी सहयोग करेगी।

ये भी पढ़ें   शराब पर दिल्ली में मिल रही छूट पूरी तरह से हुई बैन, सरकार ने दिए आदेश

नए नियम के मुताबिक, मेल एक्सप्रेस ट्रेनों में स्लीपर में 6 बर्थ रहेगी है। वहीं गरीब रथ, राजधानी, दुरंतो समेत पूरी तरह से वातानुकूलित ट्रेनों के थर्ड एसी कोच (3rd AC Coach) में 6 आरक्षित रहेगी। ऐसे में अब कोई भी महिला ट्रेन में यात्रा करेगी तो उन्हें कंफर्म सीट मिलेगी। छह से 7 लोअर बर्थ, वातानुकूलित 3 टियर (3 AC) में कोच में चार से 5 लोअर बर्थ और वातानुकूलित 2 टियर (2 AC) कोच में तीन से चार लोअर बर्थ वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष और उससे अधिक उम्र की महिला यात्रियों और गर्भवती महिलाओं के लिए आरक्षित की गई है।