बेनामी संपत्ति के मामले में अब नहीं होगी जेल, Supreme Court ने सुनाया ये बड़ा फैसला..

sc one

डेस्क : कई सालों से चर्चा में रहे बेनामी संपत्ति कानून को लेकर एक बड़ा फैसला सामने आया है। बीते मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने बेनामी संपत्ति याचिका पर सुनवाई की है। सुप्रीम कोर्ट ने बेनामी संपत्ति कानून 2016 में हुए संशोधन को अनुचित ठहराया है। सुप्रीम कोर्ट ने इस कानून पर कई बड़े फैसले लिए इसमें 3 साल तक की सजा के प्रावधान को भी समाप्त कर दिया गया। सुप्रीम कोर्ट ने बेनामी संपत्ति कानून 2016 की धारा 3 (2) को को मनमानी करार देते हुए निरस्त कर दिया है।

बेनामी संपत्ति के मामले में अब नहीं होगी जेल, Supreme Court ने सुनाया ये बड़ा फैसला.. 1
बेनामी संपत्ति के मामले में अब नहीं होगी जेल, Supreme Court ने सुनाया ये बड़ा फैसला.. 4

जानिए किसे कहते हैं बेनामी संपत्ति : दरअसल बेनामी संपत्ति ऐसे प्रॉपर्टी को कहा जाता है, जिसे खरीदने के समय पैसा कोई और चुकाया हो और प्रॉपर्टी किसी और के नाम पर होती है। कई बार लोग प्रॉपर्टी अपने नाम पर ना खरीद बच्चें और रिश्तेदार के नाम पर खरीदते हैं। इसिको बेनामी संपत्ति कहा जाता है। हालांकि इस संपत्ति का मालिक पैसा चुकाने वाला ही होता है। बाकी जिसके नाम पर है वह नाममात्र ही है।

बेनामी संपत्ति के मामले में अब नहीं होगी जेल, Supreme Court ने सुनाया ये बड़ा फैसला.. 2
बेनामी संपत्ति के मामले में अब नहीं होगी जेल, Supreme Court ने सुनाया ये बड़ा फैसला.. 5

इस प्रकार की संपत्ति लोग इसलिए भी खरीदते हैं ताकि वे काला धन छुपा सकें। ऐसे में लोग अपने नाम पर संपत्ति ना खरीद दूसरों के नाम पर खरीदते हैं। लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद लोगों के मन से जेल जाने का डर भी हट जाएगा। कोर्ट ने 3 साल के जेल की सजा वाले प्रावधान को निरस्त कर दिया है।

ये भी पढ़ें   राजधानी दिल्ली समेत पूरे देश में लागू हुई नई स्क्रैप नीति - इस डॉक्यूमेंट के बिना नई गाड़ी को किया जाएगा डम्प