अडानी पोर्ट पर पाकिस्तान समेत इन तीन देशों की नो एंट्री, ड्रग्स बरामदगी के बाद लिया बड़ा फैसला – कर दी सबकी बोलती बंद

Adani port

न्यूज डेस्क: इसी साल पिछले महीने गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट पर हेरोइन की बड़ी खेप बरामद की गई थी। इस ड्रग्स की कीमत करीब 21 हजार करोड़ रुपये बताई गई। पोर्ट पर दो कंटेनर्स में लगभग 3000 किलो हेरोइन बरामद हुए। इसके साथ-साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया भी गया। जिसके बाद दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के कई अफगान नागरिकों को एजेंसियों ने हिरासत में ले लिया था।

अब अदाणी पोर्ट के द्वारा एक अहम फैसला लिया जा रहा है, जहा अडाणी पोर्ट ने अपने सभी टर्मिनलों पर 15 नवंबर से इन राज्यों से आने वाले जिनमे ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान शामिल है, इनके कंटेनरों की आवाजाही पर बैन लगा दी गई है। जिसका अर्थ यह है की अब इन प्रदेशों में न तो अब कंटेनर एक्सपोर्ट किए जाएंगे और न ही इम्पोर्ट।

हालाकि, अडाणी पोर्ट ने यह निर्णय लेने का कोई कारण नहीं बताया है। बस कहा है की अडाणी पोर्ट द्वारा संचालित सभी टर्मिनलों और उसके किसी भी पोर्ट पर तीसरे पक्ष के टर्मिनलों सहित अगली सूचना तक यह नियम लागू रहेंगे। पर यह तो साफ है कि पश्चिमी गुजरात के उसके मुंद्रा पोर्ट पर भारी मात्रा में हेरोइन पकड़े जाने को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने यह फैसला किया है।

आपको बता दे की जब ड्रग्स बरामद हुए तब इन्हे फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (CFSL) के विशेषज्ञों के पास भेज दिया गया था। जब पदार्थ की जांच की तब पाया गया कि यह “बहुत उच्च गुणवत्ता वाली” हेरोइन है जो ई अफगानिस्तान में उत्पन्न हो सकती है। अधिकारियों ने अंतरराष्ट्रीय बाजार में हेरोइन की कीमत ₹7 करोड़ प्रति किलोग्राम होने का अनुमान लगाया था।

इस मामले में अब राष्ट्रीय जांच एजेंसी काफी सख्त हो गई , और इन्होंने कई जगहों पर छापेमारी की थी । जिनमे गुजरात के अहमदाबाद, दिल्ली, चेन्नई, गांधीधाम और मांडवी में तलाशी ली गई थी ।

You cannot copy content of this page