8 February 2023

छठ पूजा पर दिल्ली में नहीं बिकेगी शराब, एलजी ने घोषित किया ड्राई डे- जानें कब

chath puja

डेस्क : दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने दिल्ली में छठ पूजा के अवसर पर 30 अक्टूबर को ‘शुष्क दिन’ घोषित किया है। छठ पर अब दिल्ली में शराब की बिक्री पर रोक लगेगी. इस वर्ष छठ महापर्व 30 और 31 अक्टूबर को मनाया जाएगा और इस अवधि के दौरान व्रत रखने वाली महिलाओं और पुरुषों को कमर तक पानी में खड़े होकर डूबते और उगते सूरज को अर्घ्य देना होगा.

दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने छठ महापर्व पर यमुना नदी की सफाई को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच जारी राजनीतिक खींचतान के बीच 30 अक्टूबर, 2022 (छठ पूजा) को राष्ट्रीय राजधानी में शुष्क दिन घोषित किया है। दिल्ली में अब सभी शराब ठेके छठ पर बंद रहेंगे। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष देश गुप्ता और दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से छठ महापर्व के दिन शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगाकर ड्राई डे घोषित करने की मांग की थी. इसी बीच दिल्ली के उपराज्यपाल ने यह अहम फैसला लिया।

दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने शुक्रवार को आईटीओ के पास यमुना किनारे हाथी घाट पर छठ महापर्व की तैयारियों की समीक्षा की। इस वर्ष छठ महापर्व 30 और 31 अक्टूबर को मनाया जाएगा और इस अवधि के दौरान व्रत रखने वाली महिलाओं और पुरुषों को कमर तक पानी में खड़े होकर डूबते और उगते सूरज को अर्घ्य देना होगा. यह त्योहार मुख्य रूप से राष्ट्रीय राजधानी में रहने वाले बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोगों द्वारा मनाया जाता है। अधिकारियों ने बताया कि गहलोत ने सफाई, प्रकाश व्यवस्था, जलापूर्ति आदि का निरीक्षण किया और शेष कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया.

गहलोत ने समीक्षा के बाद संवाददाताओं से कहा, “हमने छठ पूजा की तैयारियों की समीक्षा की है और सभी इंतजाम किए जा रहे हैं।” सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण से लेकर दिल्ली जल बोर्ड, लोक निर्माण विभाग, सभी सरकारी एजेंसियां ​​और विभाग बेहतर व्यवस्था करने के लिए समन्वय में काम कर रहे हैं। लेकिन छठ पूजा की अनुमति दी गई। इस साल, दिल्ली सरकार शहर भर में छठ पूजा के लिए लगभग 1,100 घाटों का निर्माण कर रही है। दिल्ली में छठ पूजा की तैयारियों के लिए राजस्व विभाग को नोडल एजेंसी बनाया गया है.