लॉरेंस बिश्नोई ने कबूली सिद्धू मूसे वाला के मर्डर की बात, गैंग के 6 लोगों ने उतारा मौत के घाट

siddhu moosewala

डेस्क : गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने पंजाबी गायक और नेता सिद्धू मूसे वाला हत्या मामले में उसके गैंग द्वारा सिद्धू की जान लेने की बात कबूली है। जांच में अधिकारियों को बताया कि कनाडा में रहने वाले गोल्डी बरार सहित उसके गैंग के बाकी सदस्यों ने साजिश के तहत सिद्धूमूसेवाला को जान से मार डाला। इसकी जानकारी शुक्रवार को जांचकर्ताओं ने दी है।

उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान बिश्नोई ने आरोप लगाया कि अकाली दल के युवा नेता विक्रमजीत सिंह उर्फ विक्की मिद्दुखेरा कि पिछले साल 7 अगस्त को हत्या कर दी गई। इस हत्या में मूसे वाला भी शामिल था। बिश्नोई और पंजाबी गायक सिद्धू गाला के बीच दुश्मनी पनपने का यही कारण था।फिलहाल बिश्नोई दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ की हिरासत में है। अधिकारियों ने बताया कि बिश्नोई जांच में बिल्कुल भी सहयोग नहीं कर रहा है। उसने अभी तक अपने गिरोह के अन्य सदस्यों का नाम नहीं बताया है जो मूसे वाला हत्याकांड में शामिल थे।

28 वर्षीय गायक और नेता सिद्धू मूसे वाला कि 29 अप्रैल को पंजाब के मानसा जिले में कुछ अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। एक दिन पहले ही मुंह से वाला की सुरक्षा पंजाब सरकार ने हटाई थी। अधिकारियों के मुताबिक मामले की जांच कर रहे दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने हथियार कानून के तहत दर्ज मुकदमे में तिहाड़ से विश्नोई को गिरफ्तार करने के बाद 3 दिन की हिरासत में रखा गया है।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बिश्नोई इस वक्त कुछ भी कबूल नहीं कर रहा है। पूछताछ के दौरान उसने कबूल किया कि मूसे वाला के साथ उसकी दुश्मनी थी और उसके गिरोह के छह सदस्यों ने गायक की हत्या की। उसने बताया कि गोली बड़ा उनकी गिरोह में शामिल था, जिसने मूसे वाला के हत्या की साज़िश रची और जान से मार डाला।

ये भी पढ़ें   Indian Railway : अब ट्रेन में 5 साल से छोटे बच्चों के लिए भी लेने होगा टिकट? सामने आई बड़ी जानकारी..

हालांकि अभी तक बिश्नोई ने हत्या में शामिल लोगों को और इसे अंजाम देने वालों के बारे में कोई खुलासा नहीं किया है। अधिकारियों का कहना है कि विश्नोई ने हत्या के पीछे के मकसद का भी खुलासा नहीं किया है। वह मामले से जुड़े अन्य सवालों का जवाब देने में कोई सहयोग नहीं कर रहा है।