ऑपरेशन लोटस के खिलाफ केजरीवाल का बड़ा आरोप, बीजेपी 20 करोड़ में खरीद रही विधायक

Kejriwal

दिल्ली में इस समय ‘आप’ और भाजपा का तीखी तकरार चल रही है। आज गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने विधायकों के साथ बैठक की। बैठक के बाद केजरीवाल राजघाट घट पहुंचे और भाजपा पर ऑफर उन्होंने निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि “ऑपरेशन लोटस के जरिए उनकी सरकार गिराने की कोशिश की गई। भाजपा ने 40 विधायकों को तोड़ने की कोशिश की है, 20-20 करोड़ रुपए का ऑफर किया गया। बीजेपी ने 800 करोड़ रुपए तैयार रखे हैं। यह पैसा पीएम केयर्स से आया है या दोस्तों ने दिया है।” साथ ही मनीष सिसोदिया के बारे में बात करते हुए केजरीवाल बोले ये उनके पिछले जन्म का पुण्य है कि सिसोदिया कैसा व्यक्ति उन्हें इस जन्म में मिला।

केजरीवाल ने कहा, ”मनीष सिसोदिया के घर 14 घंटे रेड चली। गद्दे, दीवारें सब छान मारा, लेकिन कुछ नहीं मिला। हम सोच रहे थे कि यह जानते हुए कि सिसोदिया ईमानदार हैं, इन्होंने ऐसा क्यों किया। अगले दिन समझ आया जब उन्होंने सिसोदिया को आम आदमी पार्टी को तोड़ने और सीएम बनाने का ऑफर दिया।

मैंने पिछले जन्म में कुछ पुण्य किए होंगे, सौभाग्यशाली हूं कि मनीष सिसोदिया जैसे साथी मिले, उन्हें सीएम बना रहे थे, लेकिन उन्होंने ठुकार दिया। उन्होंने केस खत्म करने का ऑफर ठुकरा दिया। अब हमारे विधायकों को 20-20 करोड़ का ऑफर दे रहे हैं। मुझे बेहद खुशी है कि हमारा एक विधायक नहीं टूटा। इनका टारगेट 40 विधायकों को तोड़ने का है। आपने कट्टर पार्टी को वोट दिया है, मैं, हमारे एमएलए कट जाएंगे, लेकिन देश के साथ गद्दारी नहीं करेंगे।”

ये भी पढ़ें   Indian Railway : अब ट्रेन में महिलाओं को नहीं होगी सीट की परेशानी, रेल मंत्री ने किया ऐलान..

केजरीवाल ने आगे कहा कहा, ”ये कह रहे हैं कि घोटाला हुआ, शराब घोटाला हुआ। इन्होंने एक सभा कि जिसमें लिखा कि डेढ़ लाख करोड़ का शराब घोटाला। डेढ़ लाख करोड़ तो दिल्ली का बजट नहीं है। इनका एक बड़ा नेता टीवी पर कह रहा था 8 हजार करोड़ का घोटाला। इनके दो नेताओं ने पीसी में 1100 करोड़ का घोटाला कहा।

एलजी साहब ने रिपोर्ट में कहा 144 करोड़ का घोटाला। सीबीआई के केस में 1 करोड़ का घोटाला। यह घोटाला है क्या। कुछ नहीं है। सब बकवास है, और घोटाला ऑपरेशन लोटस है। एक एक एमएलए को 20 करोड़ दे रहे हैं, 40 विधायक चाहिए। 800 करोड़ तैयार रखे हैं इन्होंने। देश की जनता पूछ रही है कि ये 800 करोड़ किसके हैं, जीएसटी के हैं, पीएम केयर्स के हैं या इनके किसी दोस्त ने दिए हैं। ये पैसे किसने दिए जो दिल्ली की सरकार गिराने के लिए रखे हैं।” जब केजरीवाल से पूछा गया उनके किन विधायकों से संपर्क किया गया तो वो बोले कि 4 कल बताए गए थे और भी बता दिया जाएगा।