Janmashtami 2022 Date : 18 या 19 अगस्त को मनाई जाएगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी? जानिए क्या है पूजा करने का सही समय

Janmashtami 2022 Date

Janmashtami 2022 Date : जन्माष्टमी कब है इसे लेकर इन दिनों काफ़ी चर्चा हैं। यदि आपको भी जन्माष्टमी को लेकर कोई प्रश्न है तो ये खबर आपके लिए है। आपको हम बताने वाले हैं कि तमाम ज्योतिषारचर्यो के अनुसार जन्माष्टमी किस दिन और किस समय मनाई जाएगी। इस साल श्री कृष्ण जन्माष्टमी 18 और 19 अगस्त दो दिन मनाई जाएगी।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार ऐसा अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र के रात्रि में व्याप्त न होने से निर्मित हुआ है। ज्योरिषार्चियो द्वारा बताया गया है कि “पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद मास की अष्टमी तिथि को अर्द्ध रात्रि में रोहिणी नक्षत्र में मनाया जाता है। जन्म उत्सव में तिथि और नक्षत्र का विशेष महत्व होता है। इस बार 18 अगस्त को रात करीब 9:20 बजे अष्टमी तिथि प्रारंभ होगी जो अगले दिन रात लगभग 11:00 बजे तक रहेगी।”

आपको बता दें मिली जानकारी के अनुसार इन दोनों दिनों में 18 व 19 अगस्त को रोहिणी नक्षत्र नहीं रहेगा। रोहिणी नक्षत्र 19 तारीख की रात लगभग 1:50 मिनट पर प्रारंभ होने वाला है। जोकि अंग्रेजी केलेंडर के हिसाब से 20 अगस्त की तारीख होगी। इन बारीकियों का ध्यान रखते हुए 18 अगस्त को आधी रात व्यापिनी अष्टमी तिथि में भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाना चाहिए। साथ ही गृहस्तियों का व्रत भी शास्त्र सम्मत होना चाहिए।

19 तारीख को उदय व्यापिनी अष्टमी तिथि में वैष्णव का व्रत उत्तम होगा। ये भी बताते चलें कि इस बार पूजन के लिए 45 मिनट का मुहूर्त बेहद खास है। 18 अगस्त को रात लगभग 12:00 बजे से 12.45 बजे का मुहूर्त पूजा के लिए अधिक उत्तम रहेगा। इस दौरान भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव स्नान पूजा भोग लगाना चाहिए।

ये भी पढ़ें   2 व्हीलर चलाते वक्त यदि आपने भी पहनी है चप्पल और सैंडल तो लगेगा इतना बड़ा जुर्माना