IAS ऑफिसर आदित्‍य रंजन बदल रहे लोगों की जिंदगी, अब Free में देंगे UPSC की कोचिंग..

Ias UPSC

न्यूज़ डेस्क: आधुनिक शिक्षा परिवर्तनगामी समय की मांग है। पर सब ऐसी शिक्षा प्राप्त करने में असफल रहते हैं। तकनीकी सुगमता से दूर पारंपरिक पठन-पाठन छात्रों की प्रगति को लगातार बाधित कर रही है। पर झारखंड के छात्रों के इन्‍हीं सपनों को साकार करने के लिए एक IAS अफसर ने एक ऐसी पहल की है जिससे छात्रों को डिजिटली साक्षर बनाया जा सके।

This Young IAS Officer From Jharkhand Is Improving Education And Healthcare  With His Unique Initiatives

झारखंड के कोडरमा जिले के डीसी, आदित्‍य रंजन इन बच्चों को कंप्यूटर की ट्रेनिंग दे रहे हैं। साथ ही उन्‍होंने जिला प्रशासन की तरफ से ‘एक्सीलेंट 200’ की शुरुआत की है। इसमें चयनित विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए फ्री मे कोचिंग दी जाएगी। इसमे उन्‍हें यूपीएससी और सिविल सर्विसेज की परिक्षाओं की बारीकियों के बारे में बताएंगे।

Coronavirus Ias Aditya Ranjan Develop Movable Sample Collection Booth With  Help Of Engineers In Jharkhand Chaibasa - कोरोना: दक्षिण कोरिया की तर्ज पर  झारखंड के चाईबासा में बना मूवेबल सैंपल ...

IAS अधिकारी आदित्‍य रंजन ने ‘साल 2017 में 14वें वित्त आयोग में कंप्‍यूटर ऑपरेर्टस की भर्ती निकाली थी। उस समय झारखंड के कई लोगों ने इस कोर्स के लिए आवेदन दिया। जब परीक्षा हुई तब सिर्फ 8 से 10 प्रतिशत लोगों का ही सेलेक्शन हो पाया था। कारण यह था की उन्‍हें कंप्‍यूटर की बेसिक जानकारी भी नहीं थी। फिर आदित्‍य रंजन ने उन्‍हें ट्रेनिंग देना शुरू किया।’

चाईबासा जिले में तैनाती के दौरान उन्‍होंने सबसे पहले 2100 लोगों को कंप्‍यूटर ट्रेनिंग दी जिसमें से आज 700 लोग नौकरी कर रहे है। अब इसी पहल को उन्‍होंने कोडरमा में भी शुरू किया । आईएएस अधिकारी ने जिला ई-गवर्नेंस सोसायटी कंप्यूटर प्रशिक्षण कार्यक्रम (डीजीएस) शुरू किया था, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हर छात्र को कंप्यूटर की शिक्षा मिल सके।

west Singhbhum DDC Aditya Ranjan interact with students of IIT ISM

IAS आदित्‍य रंजन ने कोडरमा जिले में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी को लेकर एक्सीलेंट-200 नाम से कोचिंग शुरू करेंगे। इसके लिए कुल 1400 छात्रों ने अप्‍लाई भी किया। 800 छात्रों ने एग्‍जाम दिया जिसमें से पहले बैच (पहले सेंटर) के लिए 200 छात्रों को चुना गया है। कोडरमा के डीसी ने बताया कि 22 अक्‍टूबर से इन छात्रों की कोचिंग शुरू होगी। इसमें इन्‍हें जीएस, गणित, अंग्रेजी, हिंदी और रीजनिंग इन सब टॉपिक पर डिटेल में पढाया जाएगा। वही कुछ समय मे जिले में 3 और सेंटर खुलेंगे।

You cannot copy content of this page