खुशखबरी: मिल गई अनुमति, दिल्ली के घाटों पर हर्षोल्लास से मनाई जाएगी छठ पूजा, इन बातों का रखना पड़ेगा ध्यान नहीं तो….

Chatth Start

दिल्ली में रह रहे यूपी-बिहार के लोगों के लिए खुशखबरी है। इस वर्ष दिल्ली के छठ घाटों पर ही छठ पूजा मनाया जाएगा। कोरोना महामारी के घटते संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने घाटों पर छठ मनाने की अनुमती दे दी है। यह आवश्यक जानकारी उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दी है। इस बार छठ पूजा का आयोजन सरकार द्वारा पहले से निर्धारित किए गए घाटों पर कोविड 19 के सख्त प्रोटोकॉल के साथ किया जाएगा। साथ ही छठ घाटों पर सीमित संख्या में श्रद्धालुओं को अनुमति दी जाएगी।

बतादें कि पिछले वर्ष की तरह इस साल भी 30 सितंबर को जारी किए गए एक आदेश में, दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की ओर से कोविड 19 के तीसरी लहर के आने की आशंकाओं के चलते नदी के घाटों और मंदिरों समेत सभी सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा के आयोजनों पर प्रतिबंध लगा दी गई थी।

इस जारी किए गए आदेश के विरोध में मनोज तिवारी ने सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास पर विरोध प्रदर्शन भी किया था साथ ही छठ नदी किनारे घाटों पर मनाने की अनुमति देने की मांग की थी। जिसके बाद सीएम ने 14 अक्टूबर को दिल्ली में छठ पूजा की अनुमति प्रदान करने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल को एक पत्र लिखा था।

दिल्ली में छठ पूजा के लिए शुरू होगा स्पेशल टीकाकरण अभियान दिल्ली में छठ पूजा में भाग लेने वाले 10,000 लोगों के लिए मंगलवार से एक विशेष कोविड-19 टीकाकरण अभियान आरम्भ करने की घोषणा की गई है। वहीं केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी बीते मंगलवार को बुराड़ी के नजदीक कादीपुर से इस स्पेशल टीकाकरण अभियान की शुभारंभ करेंगे।

सांसद मनोज तिवारी की ओर स्व छठ के आयोजन पर रोक का विरोध किया गया था, संसद तिवारी मंगलवार को ”छठव्रतियों” का टीकाकरण अभियान शरू करने की घोषणा की थी जिससे लोक आस्था का महापर्व को सुरक्षित रूप से मनाएं। इस अभियान के तहत पूरे दिल्ली में 10,000 से जज्यादा लोगों को टीका लगाया लगाए जाने की लक्ष्य है।

You cannot copy content of this page