पहले पति फिर बेटे का छूटा साथ, जाने अनुराधा पौड़वाल की दर्द भरी दास्ताँ- मदर्स डे पर बांटे 10 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर्स

Anuradha with son

डेस्क : भक्ति गीत का नाम आते ही लोगों के दिमाग में अनुराधा पौडवाल की छवि आती है। उनके गाने सुनकर लगता है जैसे उनके गले में सरस्वती माता का ही वास हो। उनकी आवाज इतनी सुरीली है कि लोग उनकी भक्ति गीत के दीवाने आज भी हैं। बता दें कि उनको भारत में भक्ति भजन एवं कीर्तन के गानों से ही पहचान मिली है।

पहचान मिलने से पहले उनके जीवन में अनेकों उतार-चढ़ाव आए थे, जिनके बारे में काफी कम लोग जानते हैं। अनुराधा पौडवाल का जन्म 23 अक्टूबर 1954 को हुआ था, साल 1973 में उनको अपना करियर शुरू करने का मौका मिला था, जिसमें उन्होंने जया बहादुरी के लिए एक श्लोक गाया था। वह श्लोक अभिमान नाम की पिक्चर के लिए तैयार किया गया था। इसके बाद अनुराधा पौडवाल ने प्लेबैक सिंगिंग भी की जिसके चलते अनेकों लोगों का दिल उनकी आवाज पर आ गया था।

भारत की मशहूर म्यूजिक कंपनी टी सीरीज में भी अनुराधा पौडवाल का नाम प्रचलित है। बता दें कि उन्होंने बॉलीवुड के बेशकीमती गाने जैसे कि दिल है कि मानता नहीं, लाल दुपट्टा मलमल का, आशिकी, तेजाब गाना गाकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया था। अनुराधा पौडवाल ने 1969 में अपना जीवनसाथी चुन लिया था उन्होंने अरुण पौडवाल जोकि एस.डी बर्मन के असिस्टेंट रह चुके हैं। उन्होंने उनके साथ अपने जीवन व्यतीत करने की ख्वाहिश रखी थी जिसके चलते उन्होंने अरुण पौडवाल से शादी कर ली थी।

लेकिन उनका यह सफर ज्यादा लंबा चल नहीं पाया क्योंकि 1 नवंबर 1991 को उनके पति की एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी। बता दें कि अनुराधा पौडवाल के दो बच्चे हैं, जिनका नाम कविता और आदित्य है। अनुराधा के पति के जाने के बाद दोनों बच्चों की जिम्मेदारी अनुराधा के कंधे पर आ गई थी। बता दें की अनुराधा ने खूब मन लगाकर अपने बच्चों की परवरिश की और उनको पाला पोसा। टी-सीरीज के मालिक गुलशन ग्रोवर ने अनुराधा पौडवाल को भक्ति गीत गाने के लिए दिए थे।

जिसके चलते अनुराधा ने गीतों को गाकर भारत की जनता को भक्ति के रस में डुबो दिया था। उस जमाने में गुलशन कुमार और अनुराधा पौडवाल के अफेयर की खबरें भी टीवी पर आने लगी थी। लेकिन कभी भी अनुराधा पौडवाल और गुलशन ग्रोवर के मुंह से इस रिश्ते को लेकर कुछ खुलकर बात सामने नहीं आ पाई। जब गुलशन ग्रोवर का निधन हो गया तो उन्होंने फिल्मों में गाना गाना छोड़ दिया था।

अनुराधा पौडवाल के बेटे आदित्य किडनी की समस्या के कारण बीते वर्ष 12 दिसंबर 2020 को इस दुनिया से अलविदा कह कर चले गए। जिसके चलते अब अनुराधा पौडवाल और उनकी बेटी कविता साथ रह रहे हैं। अनुराधा पौडवाल ने इस मदर्स डे पर मुंबई में भाजपा नेता मनोज कोटक के साथ मिलकर 10 ऑक्सीजन सिलेंडर भी किए बाँटे। उनका कहना है की इससे कई लोगों की जान बच जाएगी। यह ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर उन्होंने कई मुंबई के कई सिविल अस्पतालों में बांटे। मनोज कोटक ने कुछ तस्वीरें अपने सोशल मीडिया पर भी शेयर की हैं।

You may have missed

You cannot copy content of this page