अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर चली गोली, 5 लोगों की गयी जान

Kabul

न्यूज डेस्क : हमीद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट काबुल पर लोगों की भारी भीड़ देखकर ऐसा लग रहा है जैसे यह एयरपोर्ट न होकर कोई रेलवे स्टेशन या बस अड्डा हो। अभी की स्थिति ऐसी है कि एयरपोर्ट पर वीजा चेक करने के लिए भी कोई नहीं बचा है।अफगानिस्तान के काबुल पर तालिबान के संपूर्ण कब्जे के बाद से अफ़ग़ानिस्तान में देश छोड़ने के लिए काबुल एयरपोर्ट पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई है। इस बीच खबर आ रही है कि एयरपोर्ट पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए की गई फायरिंग में कुछ लोगों की मौत भी हो गई है।

बताया जा रहा है की भीड़ को काबू करने के लिए अमेरिकी सैनिकों को हवाई फायरिंग तक करनी पड़ रही है। फायरिंग के दौरान काबुल एयरपोर्ट पर कम से कम 5 लोगों की मौत हो गई है। गोलियाँ किसकी तरफ के चली इसकी पुख्ता जानकारी अभी नहीं मिली है। अफगानिस्तान में हालात लग़ातार बिगर रहे हैं। इससे पहले खबरों में यह दावा किया गया था कि एयरपोर्ट के पास अमेरिकी सैनिकों ने हवा में गोलियाँ चलाई हैं। बता दें कि अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान के संपूर्ण कब्जे के बाद से लोग देश छोड़ कर भागना शुरू कर दिए है। काबुल तक तालिबान के कब्जे के बाद बनी डरावनी स्थिति के बीच काबुल छोड़ने के लिए लोगों में मारामारी मच गई है। एयरपोर्ट के बचे हुए कर्मचारियों का कहना है कि तालिबान के भय का आलम ये है कि लोग बिना सामान लिए ही देश छोड़कर भाग रहे हैं।

अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर चली गोली, 5 लोगों की गयी जानअफगानिस्तान में फंसे एनआरआई कई लोग वीजा बनवाने के लिए अपने-अपने देशों के दूतावास के चक्कर काट रहे हैं। इन सब के बीच अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस जैसे देश अफगानिस्तान से अपने नागरिकों को निकालने के लिए स्पेशल फ्लाइट भी चला रहे हैं। भारत ने भी काबुल से रविवार को एयर इंडिया की फ्लाइट के जरिए अपने तमाम नागरिकों को बाहर निकाला है। फिलवक्त अभी एयर इंडिया की फ्लाइट पर रोक है

You may have missed

You cannot copy content of this page