9 February 2023

आर्किटेक्ट बनना चाहते थे Ratan Tata, एक अपमान ने बदल दी तकदीर, जानें- शून्य से अरबपति बनने तक का सफर..

आर्किटेक्ट बनना चाहते थे Ratan Tata, एक अपमान ने बदल दी तकदीर, जानें- शून्य से अरबपति बनने तक का सफर.. 1

Ratan TATA : देश के सबसे बड़े उद्योगपति रतन टाटा (Ratan TATA) की कुल संपत्ति कितनी है यह सवाल सभी के मन में पनपा होगा, TATA की 1 दिन की कमाई कितनी होती है, रतन टाटा (Ratan TATA) कितने अमीर व्यक्ति हैं और TATA की और कितनी कंपनियां है? वगैरा वगैरा रतन TATA कितने कंपनी के मालिक हैं, TATA कंपनी की शुरुआत साल 1868 में जमशेदजी टाटा ने की थी।

Ratan TATA Lifestyle: ऐसा नहीं है कि रतन टाटा अपनी पूरी कमाई (रतन टाटा की कुल संपत्ति) सिर्फ चैरिटी के लिए दान करते हैं। इसके अलावा उनके पास करोड़ों रुपये का आलीशान बंगला, मर्सिडीज बेंज, फेरारी, रेंज रोवर, टाटा, कैडिलैक एक्सएलआर, जगुआर और कई अन्य ब्रांड जैसे लग्जरी कार कलेक्शन हैं और साथ ही वे निवेश भी करते हैं। उद्योगपति, निवेशक और TATA Sons के पूर्व अध्यक्ष हैं। टाटा देश के विकास में बहुत बड़ा योगदान भी देती हैं।

इस लेख में, हम पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित, परोपकारी, और भारत के सबसे सफल उद्योगपतियों में से एक रतन टाटा की कुल संपत्ति कितनी है उसके बारे में विस्तृत जानकारी भी प्राप्त करेंगे। रतन टाटा की कंपनी TATA एक वैश्विक व्यवसाय है, जिसका 65 फीसदी से अधिक राजस्व 100 से अधिक देशों में संचालन और बिक्री से भी आता है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 2022 में रतन टाटा की कुल सम्पति (Net Worth 2022) 7416 करोड़ रुपये तक है।

उनकी सबसे बड़ी कंपनियां Tata Motors टाटा स्टील, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज(TCS), टाटा पावर, टाटा ग्लोबल बेवरेजेज, टाटा केमिकल्स, इंडियन होटल्स और टाटा टेलीसर्विसेज शामिल हैं। रतन टाटा की सबसे ज्यादा कमाई इन कंपनियों से होती है, हालांकि, उनके मुनाफे का लगभग 60-65 फीसदी दान में दे दिया जाता है, जिससे रतन टाटा को दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण परोपकारी लोगों के रूप में भी जाना जाता है।

रतन टाटा की लाइफ स्टाइल: ऐसा नहीं है कि रतन टाटा अपनी पूरी ही कमाई (रतन टाटा की कुल संपत्ति) सिर्फ चैरिटी के लिए दान करते रहते हैं। इसके अलावा उनके पास करोड़ों रुपये का आलीशान बंगला, मर्सिडीज बेंज, फेरारी, रेंज रोवर, टाटा, कैडिलैक XLR, जगुआर और कई अन्य ब्रांड जैसे लग्जरी कार कलेक्शन भी हैं और साथ ही वे इन्वेस्टमेंट भी करते हैं।