केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी पर कांग्रेस ने लगाया ‘अवैध बार’ चलाने का आरोप, जानें – पूरा मामला…

Smriti Irani's daughter

डेस्क : बेटी पर गोवा में ‘अवैध बार’ चलाने का आरोप लगाने वाले कांग्रेस नेताओं पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कानूनी नोटिस भेजा है। अपने वकील के माध्यम से उन्होंने कांग्रेस पार्टी के जयराम रमेश और पवन खेड़ा को नोटिस भेजा है। बता दें कि कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कांफ्रेंस करके ईरानी की बेटी पर गोवा में अवैध बार चलाने का आरोप लगाया था। पवन खेड़ा ने कहा था, ‘केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के परिवार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं।

मंत्री की बेटी द्वारा गोवा में चलाए जा रहे रेस्त्रां पर शराब परोसने के लिए फर्ज़ी लाइसेंस जारी करवाने का आरोप लगा है। पवन खेड़ा ने दावा किया था कि केंद्रीय मंत्री की बेटी ने फर्ज़ी दस्तावेज़ देकर अपने ‘सिली सोल्स कैफे एंड बार’ के लिए ‘बार लाइसेंस’ जारी करवाए। स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए कहा था मेरी बेटी की ये गलती है कि उसकी मां सोनिया और राहुल गांधी की 5,000 करोड़ रुपये की लूट पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करती है। उसकी गलती ये है कि उसकी मां ने साल 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा।

अपनी बेटी पर लगाए आरोपों के निराधार बताते हुए स्मृति ने कहा कि उनकी 18 साल की बेटी कॉलेज की प्रथम वर्ष की छात्रा है। वह कोई बार नहीं चलाती। मंत्री ने पवन खेड़ा और कांग्रेस पार्टी को आरोप लगाने के लिए अदालत में देखने की बात कही। स्मृति ईरानी ने अब आधिकारिक रूप से कांग्रेस पार्टी, जयराम रमेश और पवन खेड़ा को कानूनी नोटिस भेजा है।

ये भी पढ़ें   IRCTC द्वारा शुरू की गई ये ख़ास सेवा - ट्रेन में मिल रहा है व्रत थाली

भाजपा और कांग्रेस के नेता इस मुद्दे पर आमने-सामने हैं। ईरानी की बेटी पर लगाए कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने एक टीवी डिबेट के दौरान कुछ टिप्पड़ी की थी। अब इसे कांग्रेस ने अमर्यादित बताते हुए भाजपा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर इसकी शिकायत की है और माफी मांगने की मांग की।