4 February 2023

गर्व! बिहार की बेटी ने माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर फहराया तिरंगा, 2024 में करेंगी एवरेस्ट पर चढ़ाई..

गर्व! बिहार की बेटी ने माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर फहराया तिरंगा, 2024 में करेंगी एवरेस्ट पर चढ़ाई.. 1

डेस्क : प्रतिभा के धनी रहे बिहार के लोगों ने कई क्षेत्रों में अपना परचम लहराया है. इसी क्रम में अब सहरसा जिले के कहरा प्रखंड अंतर्गत बनगांव की एक बेटी ने एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है. स्व विनोद झा व माता सरिता देवी की बेटी लक्ष्मी ने नेपाल स्थित काला पत्थर पिक व माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप पर अपना तिरंगा लहराया. लक्ष्मी ऐसा करने वाली बिहार की पहली बेटी बन गयी हैं.

माउंट एवरेस्ट फतेह करना है लक्ष्य

9 दिनों की लंबी चढ़ाई करने के बाद लक्ष्मी को यह सफलता मिली है. लक्ष्मी के इस कामयाबी से उसके जिले और राज्य के लोग काफी ज्यादा गौरवान्वित है. लक्ष्मी अभी माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई की तैयारी भी कर रही है. अत्यंत गरीब परिवार में पली-बढ़ी लक्ष्मी ने जो यह आज मुकाम हासिल किया है, वह दूसरों के लिए एक नजीर है, दूसरे के घरों में काम कर मां सरिता देवी ने अपने 4 बच्चों में सबसे छोटी पुत्री लक्ष्मी को इस काबिल बनाया है कि आज वह माउंट एवरेस्ट फतह करने की तैयारी कर रही है.

नेपाल के थमदादा से की चढ़ाई

लक्ष्मी ने ये बताया कि 9 नवंबर को नेपाल के थमदादा से उसने चढ़ाई शुरू की थी. 5550 मीटर काला पत्थर की चढ़ाई के बाद से उन्होंने दूसरी तरफ 5536 मीटर एवरेस्ट बेस कैंप की भी चढ़ाई की. इसमें उसे 9 दिन का समय लगा. इसके बाद वापस आने में 3 दिन का समय लगा. उन्होंने बताया कि SIS कंपनी के निदेशक रविंद्र किशोर सिंघा उसकी प्रेरणा का स्रोत है. इस कंपनी के निदेशक ने उसकी काबिलियत देख उसका नामाकंन नेहरू इंस्टीट्यूट उत्तराखंड में कराया है. जहां उसने एक वर्ष तक इसकी पूरी ट्रेनिंग भी ली.