1 February 2023

बेटी होने पर पैकेट में बंदकर झाड़ियों में फेंक दिया – फिर फरिश्ता बनकर 4 युवक ने मासूम को बचा लिया..

बेटी होने पर पैकेट में बंदकर झाड़ियों में फेंक दिया - फिर फरिश्ता बनकर 4 युवक ने मासूम को बचा लिया.. 1

डेस्क : राजस्थान से दिल को झकझोर देने वाली खबर सामने आयी है. यहां राजस्थान के बाड़मेर जिले के बालोतरा मुख्यालय से कुछ ही दूरी पर एक नवजात मासूम बच्ची बिल्कुल लावारिस अवस्था में पाई गई है. इस बच्ची को एक पैकेट में बंदकर मरने के लिए झाड़ियों में बेरहमी से फेंक दिया गया था. मगर यह कहावत यूं ही नहीं चलती आ रही कि ‘जाको राखे साइयां, मार सके ना कोई’. इस बच्ची को बचाने के लिए भी 4 दोस्त देवदूत बन कर सामने आए.

पैकेट में बंद करके मासूम को फेंका

जिस जगह पर इस बच्ची को पैकेट में बंद करके फेंक दिया गया था, वहीं से ये 4 दोस्त गुजर रहे थे. इन्होंने पहले इस मासूम की रोने की आवाज सुनी और फिर उसे बचाने के लिए झाड़ियों तक पहुंच गए. ये सभी तब हैरान रह गए जब इन्होंने वहां पड़े एक पैकेट को खोला, उसमें एक मासूम नवजात थी. इसके बाद ये चारों दोस्त उस मासूम को बालोतरा के राजकीय नाहटा चिकित्सालय ले गए और जहां पर उसे भर्ती करवा दिया. फिलहाल मासूम का वहां इलाज चल रहा है.

जहां कड़ाके की ठंड में लोग उनी कपड़े पहनकर निकल रहे है वही एक मासूम को पैकेट में बंद करके झाड़ियों में फेंक दिया गया ये 4 दोस्त उस नवजात के लिए किसी फरिश्ते से कम बिल्कुल भी नही हैं जिन्होंने समय पर पहुचकर नवजात को प्राथमिक उपचार के लिए एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया