कभी लालू के काफी करीब रही अन्नपूर्णा देवी,भाजपा में शामिल होने के दो साल के भीतर मोदी कैबिनेट में बनी मंत्री

Anupurna Devi Cabinet Minister

न्यूज़ डेस्क : बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार मे कैबिनेट मंत्री का विस्तार हुआ। जिसमें कुल 45 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। उन्हीं नेताओं में से एक थी झारखंड के कोडरमा से बनी सांसद अन्नपूर्णा देवी। जिसे अब केंद्र में राज्य का शिक्षा मंत्री बनाए गया। सांसद के रूप में उनका यह पहला कार्यकाल है। साथ ही वह झारखंड और बिहार से 4 बार विधायक भी रह चुकी हैं। बता दें कि अन्नपूर्णा देवी भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी है। सबसे खास बात यह है कि अन्नपूर्णा 2019 लोकसभा चुनाव से पहले राजद छोड़कर भाजपा में शामिल हुईं थी। चुनाव जीते ही उन्‍हें झारखंड प्रदेश का उपाध्‍यक्ष बनाया गया। उसके बाद उन्‍हें भाजपा का राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष और हरियाणा का सह प्रभारी भी बनाया गया।

जानिए, इनका राजनीतिक सफर: बताया जाता है कुछ समय पहले अन्नपूर्णा राजद के सुप्रीमो लालू यादव के काफी करीब हुआ करती थी। 51 वर्ष के उम्र में ही उनके पति रमेश प्रसाद यादव का देहांत हो गया। भाजपा में शामिल होते ही अन्नपूर्णा का पार्टी में कद बढ़ने लगा। विगत 2 वर्ष के अंदर ने उन्हें न केवल दल का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया, बल्कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी शामिल कर उनके कद को बढ़ाने का काम किया। बता दें कि पति के मृत्यु के पश्चात 1999 में विधानसभा का उप चुनाव लड़कर पहली बार विधायक बनीं। फिर एक वर्ष बाद विधानसभा में चुनाव जीत कर दूसरी बार बिहार सरकार में मंत्री बन गई।

बिहार से झारखंड अलग होते ही अन्नपूर्णा देवी सत्ता से अलग होकर केवल विधायक बन कर रह गईं। इसके बाद 2005 एवं 2009 का विधानसभा चुनाव जीती। वर्ष 2013 में सूबे की हेमंत सोरेन सरकार में जल संसाधन मंत्री बनीं। फिर 2014 के विधानसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। फिर 2019 में भाजपा में शामिल होने के बाद वह कोडरमा से सांसद बनी। गत वर्ष मे उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया। वहीं अब उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है।

ये भी पढ़ें   जान लें मंकी पॉक्स के लक्षण! दिल्ली में दिन प्रतिदिन बढ़ रहे हैं मामले