1 February 2023

गर्व! एक ही परिवार से निकले 4 IAS – IPS अधिकारी, जानिए इस परिवार की कहानी..

ias and ips

डेस्क : आईएएस अधिकारी (IAS) बनना अपने आप में एक गौरव की बात होती है। उत्तर प्रदेश का एक गांव जिस गांव में एक ही परिवार से 4 आईएएस-आईपीएस ऑफिसर हैं। ये चारों सगे भाई- बहन हैं। हम बात कर रहे हैं यूपी के लालगंज की एक परिवार की। इस परिवार के 4 बच्चे आईएएस – आईपीएस है। इन सब के पिता अनिल प्रकाश मिश्रा जो कि ग्रामीण बैंक में प्रबंधक रहे। वह कहते हैं मैंने अपने बच्चों की शिक्षा में कोई कमी नहीं छोड़ी, वहीं बच्चें भी अपनी पढ़ाई पर ध्यान दिया।

गर्व! एक ही परिवार से निकले 4 IAS - IPS अधिकारी, जानिए इस परिवार की कहानी.. 1
गर्व! एक ही परिवार से निकले 4 IAS - IPS अधिकारी, जानिए इस परिवार की कहानी.. 4

यह कहानी एक ऐसे गांव, एक ऐसे पिता, एक ऐसे बच्चों की है। जिससे पूरे देश को गौरवान्वित किया है। इन चारों मैं सबसे बड़े योगेश मिश्रा अपने घर के सबसे पहले आईएएस अधिकारी हैं। योगेश मिश्रा ने अपनी शुरुआती पढ़ाई लिखाई लालगंज से ही की। इसके बाद मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद नोएडा में नौकरी करने के साथ-साथ सिविल सेवा की भी तैयारी करने लगे। कड़ी मेहनत और लगन के बाद साल 2013 में इन्हें कामयाबी हाथ लग ग, और ये आईएएस अधिकारी बन गए। वहीं छोटी बहन क्षमा मिश्रा आईपीएस ऑफिसर है। क्षमा मिश्रा देश में एक तेजतर्रार आईपीएस के रूप में उभरी हैं।

गर्व! एक ही परिवार से निकले 4 IAS - IPS अधिकारी, जानिए इस परिवार की कहानी.. 2
गर्व! एक ही परिवार से निकले 4 IAS - IPS अधिकारी, जानिए इस परिवार की कहानी.. 5

इस परिवार के तीसरे बच्चें की बात करें तो यह मधुरी माधुरी मिश्रा हैं। इन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई लालगंज से ही पूरी की। इसके बाद परास्नातक के लिए इलाहाबाद चली गई। इसके बाद साल 2014 में सिविल सेवा की परीक्षा में सफलता हासिल कर आईएएस अधिकारी बन गई। इन चारों भाई बहन में सबसे छोटे हैं लोकेश मिश्रा इन्होंने साल 2015 में यूपीएससी परीक्षा में 44 वां स्थान हासिल कर माता-पिता सहित पूरे पूरे देश का नाम रोशन कर दिया। इन सभी आईएएस- आईपीएस अधिकारी के पिता अनिल प्रकाश मिश्रा कहते हैं कि मैं अपने बच्चों के कामयाबी से गदगद हूं, एक पिता को और क्या चाहिए।