गर्मियों में खूब चलाएं AC-Cooler, फिर भी बिजली बिल आएगा कम, जानिए काम के टिप्स, हर महीने होगी हजारों की बचत

Electricity Bill Reduced

गर्मी का मौसम आते हैं घरों में बिजली का बिल बढ़ जाता है। बिजली बिल का कुछ हिस्सा खपत में होता है और कुछ बर्बाद करने में भी चला जाता है। अगर ऐसे में हमको सावधानियां बरतें तो बिजली बिल की बर्बादी को बचा सकते हैं। इसके लिए यह जानना जरूरी है कि बिजली की बर्बादी कहां हो रही है।

गर्मियों में बिजली का बिल क्यों ज्यादा आ रहा है। यह जानना बेहद आसान है। उसका एक तरीका है, जिसे जानने के बाद आप भी अपने घर के बर्बाद बिजली को बचा सकते हैं। घर के हर बिजली उपकरण पर लिखा होता है कि यह कितनी बिजली का खपत करेगा। ऑफिस के आधार पर जान सकते हैं कि घर का बिजली बिल सही आ रहा है या ज्यादा।

अक्सर लोग गर्मी शुरू होते ही एयर कंडीशनर का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं। लेकिन अगर इस एसी की सर्विस करा ली जाय और फिल्टर को बदल दिया जाए तो करीब 15 से 20 फ़ीसदी तक बिजली की खपत को कम किया जा सकता है। सिटी एयरकंडीशनर के संचालक संजय लाजारस ने बताया कि इससे बिजली की खपत में कमी होने के साथ ही एसी में आवाज भी कम आती है।

अपने घरों में होने वाले पाइप लाइन के लीकेज के वजह से काफी बिजली बर्बाद होती है, जिन्हें हम अक्सर ध्यान नहीं देते हैं। गर्मियों में मोटर का इस्तेमाल अधिक होता है लेकिन आई तो कर ले कर कर रहा है तो पानी की बर्बादी होती है और बिजली भी अधिक लगती है। इसलिए पाइप को सही करा कर बिजली की खपत को बचाया जा सकता है। इसके अलावा आप मोटर की सर्विसिंग करा सकते हैं जिससे बिजली की कम खपत के साथ पानी भी ज्यादा देता है।

ये भी पढ़ें   पेट्रोल पंप वाले खुलेआम ऐसे लगाते हैं चूना, बचने के उपाय जान लीजिए, ये टिप्स अपनाएंगे नहीं होगी ठगी..

गर्मियों के सीजन में कपड़े भी बहुत गंदे होते हैं। गर्मियां शुरू होने के पहले वॉशिंग मशीन का सर्विसिंग करा ले। इसके अलावा गर्मियों के मौसम में बल्ब, या ट्यूबलाइट के बदले एलईडी बल्ब का इस्तेमाल शुरू कर दें। 5 वोट का एलईडी 20 से 25 सीएफएल के बराबर रोशनी देता है। साथ ही यह आधी बिजली की खपत करता है और इसकी लाइफ थी ज्यादा होती है।

अगर लोग घरों में सोलर पैनल लगाए तो यह काफी बिजली पैदा कर सकता है। इससे घरों में रोशनी मिलने के अलावा अन्य कामों में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यदि आप घर में सोलर पैनल का इस्तेमाल करते हैं तो इससे काफी बिजली की बचत की जा सकती है।

आज के डिजिटल युग में बिजली विभाग की तरफ से घरों में लगाया जाने वाले बिजली मीटर को भी डिजिटल कर दिया गया है। इसमें लाल रंग के बिजली इंडिकेटर में बिजली की खपत दर्ज हो जाती है। ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी है कि बिजली का सही इस्तेमाल हो रहा है या नहीं। आइए जानते है कुछ बातों के बारे में –

यदि कोई बोल दिया बिजली का उपकरण 100 वाट का है तो 10 घंटे तक इस्तेमाल होने पर इसमें एक यूनिट बिजली की खपत होगी। सामान्य तौर पर घरों में इस्तेमाल होने वाला टीवी 100 वाट का होता है। अगर इसका 10 घंटे रोज यूज करते हैं तो इसका मतलब है कि इसमें एक यूनिट की खपत होती है। इस तरह 30 दिनों में 30 यूनिट बिजली की खपत होगी। इसी प्रकार अन्य उपकरण के बारे में भी जान सकते हैं।