December 10, 2022

अगर कोई आपका MMS चोरी से बना ले तो क्या कानूनी कदम उठा सकते हैं? जानें – नियम..

अगर कोई आपका MMS चोरी से बना ले तो क्या कानूनी कदम उठा सकते हैं? जानें - नियम.. 1

डेस्क : भारत में क्या कानून है और किस धारा के तहत आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। तो आज मैं आपको बताता हूं कि एमएमएस के बारे में कानून क्या कहता है और आरोप साबित होने पर क्या सजा हो सकती है….

किस तरह की कार्रवाई के तहत : बता दें कि छात्रा और उसके प्रेमी की गिरफ्तारी के बाद आईपीसी की धारा 354सी और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. उन पर आईटी एक्ट की धारा (66ई) के तहत भी आरोप लगाए गए हैं। अब उन पर इस धारा के तहत मुकदमा चलाया जाएगा और दोषी पाए जाने पर जेल की सजा भुगतनी पड़ सकती है।

धारा 354सी क्या है? अगर कोई व्यक्ति किसी महिला की निजी हरकत करते हुए फोटो क्लिक करता है या वीडियो लेता है। यानी अगर कोई अपना प्राइवेट काम कर रहा है और उस वक्त उन्हें उम्मीद है कि कोई उन्हें नहीं देख रहा होगा. अगर इस वक्त कोई किसी महिला को कैमरे में पकड़ लेता है तो उसके खिलाफ धारा 354सी के तहत कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि निजी कृत्यों में वे सभी निजी क्षण और चीजें शामिल हैं, जो वे अपनी गोपनीयता में करते हैं यदि वीडियो में किसी महिला के निजी अंगों को दिखाया गया है या एक महिला को इनरवियर में या टॉयलेट का उपयोग करते हुए या कुछ ऐसा करते हुए दिखाया गया है जो वह सार्वजनिक रूप से नहीं कर सकती है, तो कार्रवाई होगी उसके खिलाफ लिया जाए। आपको बता दें कि इन धाराओं के तहत दोषी पाए जाने पर पहले अपराध के लिए 1 से 3 साल और बाद के अपराधों के लिए 3 से 7 साल तक की सजा हो सकती है। साथ ही दोषियों पर जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

ये भी पढ़ें   आखिर कैसे होता है सैनिक स्कूल में बच्चें का एडमिशन - जान लीजिए पूरी डिटेल..

आईटी अधिनियम के प्रावधान क्या हैं : आईपीसी के साथ-साथ आईटी अधिनियम ऐसे कृत्यों के लिए सजा का प्रावधान करता है। आईटी अधिनियम धारा 66ई के तहत गोपनीयता भंग करने, आपत्तिजनक जानकारी के प्रकाशन और धारा 67 के तहत अश्लील जानकारी के प्रकाशन के लिए कार्रवाई का भी प्रावधान करता है। आपको बता दें कि अगर आपके साथ कभी ऐसा होता है तो आपको इसकी सूचना पुलिस को देनी चाहिए।