रेल की पटरियों पर जंग ना लगने के पीछे यह है सबसे बड़ा कारण- जानिए

train trracks

डेस्क : आजकल देश में अधिकतर लोग रेल से यात्रा करना पसंद करते हैं। किफायती और आरामदायक भी होता है। अगर आपकी नज़र रेल की पटरियों पर गई होगी तो आपने गौर किया होगा कि रेल की पटरी ओं की अगल बगल के हिस्से में भले ही जंग लगे हुए होते हैं लेकिन इसका ऊपरी हिस्सा चमचमाता हुआ नजर आता है।

कभी आपने सोचा है कि ऐसा क्यों होता है। रेल की पटरी के इस हिस्से पर जंग क्यों नहीं लगता। आइए जानते हैं इसके पीछे का कारण और उसके बनावट का तरीका। सामान्य तौर पर लोहे की चीज में जंग तब लगती है जब इससे बनने वाला कोई सामान हवा में ऑक्सीजन की साथ रिएक्शन करता है। रिएक्शन होने के बाद उस सामान पर भूरे रंग की एक परत जम जाती है। यह आयरन ऑक्साइड होता है और परतों के रुप में जमता है। परत जैसे – जैसे बढ़ती जाती है इसका दायरा भी बढ़ता जाता है।

आपको बता दें कि रेलवे की पटरियों को एक खास तरह के स्टील से बनाई जाती है। इसे मैंगनीज कहते हैं। इस विशेष स्टील में 12 फ़ीसदी मैंगनीज और 0.8 फ़ीसदी कार्बन होते हैं। इन मेटल्स के होने की वजह से आयरन ऑक्साइड नहीं बनता है और रेल की पटरियों पर जंग नहीं लगता।

ये भी पढ़ें   आखिर क्यों थियटर पर पॉपकॉर्न होते हैं इतने महंगे ? PVR के निदेशक ने बताई मजबूरी