मैच की हार जीत तय करने वाले अंपायर को मिलती है इतनी तनख्वाह – जानिए

Umpire One

डेस्क : क्रिकेट के मैदान में भले ही खिलाड़ी अपने बेहतर प्रदर्शन से वाहवाही लूट रहे होते हैं लेकिनपूरे मैच के हार जीत के फ़ैसले को अंपायर ही तय करता है। जहां क्रिकेट में खिलाड़ियों को अच्छी खासी फीस दी जाती है, वही अंपायर को भी काफी तगड़ी रकम मिलती है। आइए जानते हैं कि कैसे अंपायर का चुनाव होता है और कितनी सैलरी मिलती है।

आईपीएल मैच में अंपायर की दो श्रेणी होती है जिसमें एक एलिट और इंट्री लेवल अंपायर होते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक एलिट अंपायर को $2700 से$3200 दी जाती है। इंट्री लेवल के अंपायर को 1000 डॉलर मिलते हैं। वही एलिट अंपायर को पूरे सीजन में $60000 तक मिल सकते हैं जबकि इंट्री लेवल के अंपायर को $20000 तक कमाई होती है। वहीं कई खेल वेबसाइट के अनुसार, वन डे और टेस्ट मैच में अंपायरों की सैलरी टूर्नामेंट पर भी निर्भर होती है। सामान्य तौर पर यदि अनुमान लगाया जाए तो$30000 से $50000 के बीच होती है। टेस्ट मैच की बात करें तो$3000 और वनडे मैच के लिए लगभग 1000 डॉलर दिए जाते हैं।

अंपायर बनने के लिए यहां कुछ विशेष जानकारियां होना जरूरी है। जैसे कि क्रिकेट की अच्छी समझ होनी चाहिए। क्रिकेट के 42 नियमों का पता होना चाहिए। इसके अलावा अंपायर का व्यवहार भी अहम भूमिका निभाता है। अंपायर बनने के लिए समय-समय पर राज्य स्तरीय स्पोर्ट्स बॉडीयों द्वारा प्रयोगात्मक और लिखित परीक्षा आयोजित कराई जाती है। यदि व्यक्ति इस में सफल हो जाता है तब उसे बीसीसीआई द्वारा आयोजित परीक्षा में बैठने के योग्य माना जाता है।

ये भी पढ़ें   बस कुछ ही मिनटों में काम खर्च में साफ हो जाएगी आपके घर की पानी की टंकी- अपनाएं ये आसान ट्रिक्स

यदि दूसरे स्तर की परीक्षा को व्यक्ति पास कर लेता है तो उसे बीसीसीआई पैनल के लिए चुन लिया जाता है। राष्ट्रीय मैचों में कुछ दिनों तक अंपायरिंग करने के बाद अंतरराष्ट्रीय मैचों में मौका दिया जाता है। हालांकि यह बहुत ही जिम्मेदारी वाले काम होते हैं। यदि गलती से किसी भी खिलाड़ी को आउट दे दिया तो लोगों की खरी-खोटी भी खूब सुनने को मिलती है।