9 February 2023

अभी आपके सोचा प्रपोज घुटने पर ही बैठकर क्यों किया जाता है? आज वजह जान लीजिए..

अभी आपके सोचा प्रपोज घुटने पर ही बैठकर क्यों किया जाता है? आज वजह जान लीजिए.. 1

डेस्क : बचपन से ही हम यह देखते आ रहे हैं फिल्मों में टीवी से लोग हैं कि नायक अपनी नायिका को बाकायदा घुटने पर बैठकर अपने प्यार का इजहार करता है जिसे अंग्रेजी में प्रपोज करना कहते हैं इसके बाद प्रेमिका अक्सर हर मामले में नायक को हां कर देती है यह चलन भारतीय टेलीविजन के इतिहास में काफी अर्से से चला रहा है

या फिर यूं कहें किसे हॉलीवुड से अडॉप्ट किया गया है जिसके बाद लगभग सभी लोग अपने प्रेम का इजहार घुटने के बल बैठकर करना चाहते हैं और आजकल की युवा पीढ़ी में इसका चलन काफी ज्यादा लोकप्रिय हो गया है आइए जानते हैं कि इस चलन की शुरुआत कैसे हुई

कैसे हुई इस चलन की शुरुआत: वैसे तो घुटने के बल पर बैठकर प्रपोज करने का सिलसिला कब से शुरू हुआ इसका कोई साक्ष्य लिखित में नहीं है हल्की जो जानकार है उनका यह मानना है कि यह एक तरह के समर्पण और वादों को दर्शाता है जो नायक अपनी नायिका से प्रेम के इजहार करने में करता है माना यह जाता है

कि इसकी शुरुआत मध्यकालीन युग से हुई थी जब कोई योद्धा कुलीन महिलाओं के सामने घुटने के बल झुका होता है कहीं-कहीं विशेष अनुष्ठानों में भी यही परंपरा होती है जैसे कि हमने कई पुरानी तस्वीरों या पेंटिंग में अक्सर ऐसा पाया है

सम्मान का है सूचक: घुटने के केबल बैठना या घुटने टेक देना एक सम्मान की तरफ इशारा करता है जब भी को योद्धा अपने राजा को सम्मान देता है तो इसी प्रकार से घुटने के बल बैठकर सिर झुका कर सम्मान देता है यह परंपरा काफी सदियों से चली आ रही है और हमने इन्हें तस्वीरों से लेकर टेलीविजन के माध्यम से देखा भी है

प्रेमिका अपनी प्रेमिका के सामने घुटने के बल बैठना और प्रेम का इजहार करना अपनी प्रेमिका के प्रति सम्मान समर्पण और उसके द्वारा किए गए वादों का एक प्रतीक होता है जो प्रेमी या नायक को यह याद दिलाता है कि उसका समर्पण उसकी प्रेमिका से किस तरह से है