Indian Railway : ट्रेन में पालतू जानवर को बुक कर ले जाने पर कितना किराया लगेगा, जानें – पूरा प्रोसेस..

Train Dog Fare

Indian Railway : भारतीय रेलवे ने यात्रियों के अलावा लगेज व कुत्ता तक ले जाने के लिए नियम बनाया है। कुत्ते की यात्रा से जुड़े नियम काफी रोचक है। रेलवे के नियम के मुताबिक आप कुत्ते को एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकते हैं। लेकिन कुछ नियमों का पालन करना होगा। दरअसल रेलवे ने कुत्ते को लगेज की श्रेणी में रखा है। वहीं कुत्ते का वजन अपने हिसाब से तय किया गया है। जैसे कि आपका कुत्ता 5 किलो का हो या 50 किलोग्राम का इसका वजन 30 किलो ही पेपर्स पर लिखा जाना है। तो आइए रेलवे के कुछ रोचक नियमों को जानते हैं।

यदि आप रेल यात्रा में अपने साथ कुत्ता (Dog) को ले जा रहे हैं तो इसके लिए एक दो तरीके हैं एक तो फर्स्ट ऐसी का कुपा बुक करा सकते हैं। यदि ये नहीं हुआ तो लगेज में बुक करना होगा। एसएलआर में उसे ले जाया जा सकता हैं। ये गार्ड डिब्बे के पास होता है। इसमें अन्य कई सामान भी होते हैं। वहीं कुत्ते के लिए 30 फीसदी अधिक भुक्तान करना होगा। इसके साथ ही ट्रेन स्टेशन पर रुकती है उस समय मालिक अपने कुत्ते को खाना देने आ-जा सकते हैं।

आजादी से पहले थे ये नियम : वर्तमान में इन चीजों के लिए अतिरिक्त शुल्क भुक्तान करने होते हैं। लेकिन आजादी से पहले रेलवे अधिकारियों के फर्स्‍ट एसी के पास में ये सुविधा थी कि वे अपने साथ बिना अतिरिक्त चार्ज के तीन नौकर, एक कुत्‍ता और साइकिल ले जा सकते थे। और ये नियम हर अधिकारीयों के लिए थी। वहीं अब नियमों में काफी बदलाव किया गया है।

ये भी पढ़ें   हरे रंग की स्प्राइट बोतल हुई बंद! जानें क्यों गायब हुआ 61 साल पुराना रंग

बिल्लियों के लिए बने नए नियम : बता दें कि पैसेंजर ट्रेनों में बिल्लियों को ले जाने की अनुमति नहीं थी। यानी अपने यात्री अपने साथ बिल्ली नहीं ले जा सकते थे। लेकिन अब नियम में बदलाव किए गए हैं। नए नियम के मुताबिक यात्री अपने साथ पैसेंजर ट्रेनों में बिल्ली लेकर यात्रा कर सकते हैं।