क्या आप जानते हैं कि Electronic Plug के तीनों पिन में चीरा लगाए जाने के पीछे क्या वजह है ? जानिए यहाँ

Plug Three

डेस्क : हमारी रोजमर्रा के जीवन में ऐसी कई सारी चीज़े होती हैं जिनके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती हैं। इनमें से एक हैं इलेक्ट्रिक प्लग। किसी छोटी-मोटी चीज़ों के लिए दो पिन और बड़ी चीजों के लिए तीन पिन वाले प्लग का इस्तेमाल किया जाता है। यदि आपने इन पिंस को ध्यान से देखा होगा तो उसमें कट लगा होता है।

तीन पिन वाले इलेक्ट्रिक प्लग दो तरह के होते हैं। पहला वह जिसकी पिन पीतल की होती है और दूसरा जिसकी एलुमिनियम की होती है। पीतल वाले तीन पर जंग लगने या उसके खराब होने का खतरा रहता है इसके चलते उस पर निकेल की पॉलिश की जाती है। इसके बाद उसपर कट लगाए जाते हैं। जिससे वह स्टील का लगता है।

पीतल के कट मार्क वाली पिन जो होती है वह बिजली की अच्छी सुचालक होती है। इसमें बिजली का फ्लो काफी आसानी से प्रवाहित होता है लेकिन एक लिमिट से अधिक प्रवाहित की जाए तो यह गर्म हो जाता है। गर्म होने के बाद या फैल सकती है और फैल का सॉकेट में चिपक सकती है और इसका कवर डैमेज हो सकता है। इसलिए इसके आकार में भी बदलाव किया जाता है।गर्म होकर आकार बदलने के लिए इसे इसमें कट लगाया जाता है। बिजली प्रवाहित होने के दौरान चीरा लगा होने से यह दो भागों में बांट जाती है। जिससे जल्दी कर नहीं होता और डैमेज होने का खतरा भी कम रहता है। इसलिए प्लग लेते समय कट मार्क का जरूर ध्यान रखें।

तीन पिन वाले प्लग का इस्तेमाल हैवी एप्लीकेशंस के लिए किया जाता है। जैसे कि एयरकंडीशनर जो कि अधिक बिजली प्रवहित करते हैं। ये ज्यादा बिजली की खपत करते हैं। ऐसे मे यदि तीनों पिन में कट मार्क न हो तो बिजली के लोड से डैमेज हो सकते हैं और अपना आकार बदल सकते हैं। इसलिए कट मार्क होना ज़रूरी है। तीन पिन वाले प्लग का उपयोग हैवी एप्लीकेशंस के लिए होता है जो अधिक समय तक चलता है। ऐसे में इनके पिन और लव का मजबूत होना जरूरी है जिससे इन्हें डैमेज होने से बचाया जा सके।

ये भी पढ़ें   औरंगजेब की चालाकी से नहीं बन पाया काला ताजमहल, जानिए इसके पीछे की कहानी