Indian Railway : सर्दियों में बंद रहते हैं AC, तो रेलवे क्यों लेता है चार्ज? जानें – आपके जेब पर कैसे चुना लगता है..

Indian Railway

Indian Railway : भारत में अधिकांश लोग लंबी यात्रा के लिए ट्रेन को चुनते हैं। ट्रेन सस्ती होने के साथ- साथ एक आरामदायक सफर भी कराती है। इसमें लोग घर जैसा महसूस कर पाते हैं। ट्रेन में कई श्रेणियां बनाई गई है। लोग अपने बजट के हिसाब से टिकट बुक करते हैं। ट्रेन में सेकंड सीटर, स्लीपर के अलावा AC कोचेस भी होते हैं। क्या आपने कभी गौर किया है कि AC कोच गर्मियों में तो ठीक है ठंड महसूस कराती है, लेकिन सर्दियों के समय AC के नाम पर चार्ज क्यों लिए जाते हैं। जबकि सर्दियों में तो AC ठंड हवा नहीं देती है। तो आइए दुविधाओं को दूर करें।

ट्रेन में AC कोच की किराए स्लीपर और सेकंड सीटर से अधिक होते है। इसमें अन्य बोगियों से अधिक सुविधाएं दी जाती है। AC के साथ-साथ कई अन्य सुविधाएं यात्रियों को मिलते हैं। अब बात आई एयर कंडीशन बोगी में गर्मी में तो ठंडा माहौल रहता है, लेकिन सर्दियों में AC क्या काम। तो ठंड के समय एसी कोच गर्म रखा जाता है। इसके लिए हीटर का इस्तेमाल किया जाता है। AC बोगियों में लोगों को गर्मियों के दिनों में ठंड और ठंडी के दिनों में गर्म रखा जाता है।

हर मौसम का साथी है AC : गर्मियों में AC की ठंडी हवा एयर कंडीशन कोच में खाते हैं, लेकिन सर्दियों में अपने गौर किया होगा कि एसी कोचेस बिल्कुल गर्म होता है। दरअसल ट्रेन में ठंड के समय AC में लगे हीटर का इस्तेमाल होता है। इसे ब्लोअर के माध्यम से कोच में गरमाहट पैदा की जाती है। ट्रेन में इस्तेमाल किए जाने वाले हीटर खास होता है। यह आपके स्किन पर बिल्कुल भी प्रभाव नहीं डालता है। शायद अब आपकी दुविधा समाप्त हो गए होंगे। अगली बार यात्रा के दौरान इन बातों पर जरूर गौर करिएगा।

ये भी पढ़ें   Indian Railway : ट्रेन में व‍िंडो सीट पर बैठने का हक क‍िसके पास होता है? बड़े काम की है यह जानकारी…