4 February 2023

आखिर फोर व्हीलर वाहन ही क्यों भरते हैं Toll Tax? समझें पूरा गणित….

how toll tax is calculated

Rules Related To Toll Tax: टोल नाकों के बारे में कौन नहीं जानता है। कभी भी अब नेशनल या स्टेट हाईवे से गुजरते हैं तो आपको टोल प्लाजा से होकर गुजरना पड़ता है। टोल प्लाजा में कार, बस, ट्रक और भी जितनी बड़ी गाड़ियां होती है, इन सब से टैक्स की वसूली की जाती है। पर क्या आपने ध्यान दिया है कि दोपहिया वाहनों से टोल टैक्स नहीं लिया जाता। पर चार पहिया वाहनो को बराबर टैक्स का भुगतान करना होता है। तो आइए आपको बताएं की क्यों ऐसा होता है। क्यों केवल चार पहिया या उससे ज्यादा बड़ी गाड़ियां ही टोल टैक्स का भुगतान करते हैं।

सड़क पर गाड़ियों का वजन
दोपहिया वाहनों का टैक्स न लगने का कारण है इन गाड़ियों का वजन। दोपहिया वाहनों का वजन बड़ी गाड़ियों की तुलना में बेहद कम है। जिस वजह से रोड पर इनका वजन कम होता है। कारण ये भी है बाइक या स्कूटर पर सामान ज्यादा रख नहीं पाते। इन छोटे वाहनों की वजह से रोड खराब नहीं होती। यहीं कारण है कि इन्हें टोल मुक्त रखा गया है।

चालक की आर्थिक स्थिति
जितने भी परिवहन के साधन हैं उनमें दोपहिया वाहन को सबसे नीचे रखा गया है। आपने सुना होगा की अक्सर अमीर लोग गाड़ियों में यात्रा करते हैं। वहीं, गरीब या कमजोर वर्ग दोपहिया वाहन का ही इस्तेमाल करते हैं। हालांकि जरूरी नहीं सभी की आर्थिक हालात कमजोर हो लेकिन ये ही वजह है जिस वजह से सरकार भी इनसे टोल टैक्स नहीं लेती।

दोपहिया वाहन का आकार और स्थान
आपने गौर किया होगा कि बडे़ वाहन कार, ट्रक, बस, आदि अलग-अलग साइज और स्थान वाले होते हैं, यहीं कारण है कि इनका टोल टैक्स चार्ज अलग-अलग होता है। जबकि दोपहिया वाहन का साइज इन सब से छोटा होता है। इस वजह से भी इन्हें टोल मुक्त रखा जाता है।

क्यों लिया जाता है टोल टैक्स?
बड़े वाहनों से टैक्स इसलिए लिया जाता है क्योंकि कितनी भी नेशनल हाइवे का निर्माण किया गया है। उसे बनाने में जितना खर्च हुआ, उसे कवर करने लिए टैक्स की वसूली होती है। दूसरा कारण ये कि जो रोड पर गड्ढे हो जाते है, क्योंकि बड़ी गाड़ियों का वजन अधिक होता है, और इन्हीं कारणों से कई बार रोड डैमज भी हो जाती है। इनकी मरम्मत के लिए आपसे टोल टैक्स लिया जाता है।